लखनऊ, जेएनएन। काेरोना संक्रमण का असर पॉलीटेक्निक की परीक्षा पर पड़ रहा है। एक ओर जहां आनलाइन प्रवेश परीक्षा का खाका तैयार हो चुका है तो अभी आवेदन की संख्या सीटों के मुकाबले कम होने की वजह से आवेदन की अंतिम तिथि एक बार फिर 15 मई से बढ़ाकर 15 जून कर दी गई है। इससे पहले 15 अप्रैल से बढ़ाकर 30 अप्रैल किया गया था। अब तक करीब ढाई लाख आवेदन जमा हो चुके हैं।

प्रवेश परीक्षा को लेकर असमंजस: जून के दूसरे सप्ताह में हाेने वाली प्रवेश परीक्षा को लेकर असमंजस है। परीक्षा की तिथि तक आवेदन प्रक्रिया के चलते इसे बढ़ाने पर मंथन शुरू हो गया है। पॉलीटेक्निक की सभी 58 ट्रेडों में प्रवेश के लिए ऑनलाइन प्रवेश परीक्षाएं होंगी। ए से के ग्रुप तक की प्रवेश परीक्षा 15 से 20 जून तक प्रस्तावित थी है। परीक्षा से पहले संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद की वेबसाइट jeecup.nic.in पर आनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 15 जून है। संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद की ओर से सभी जिलों में प्रवेश परीक्षा होगी। आनलाइन सुविधा को लेकर केंद्रों के निर्धारण के लिए तलाश शुरू हो गई है। पहले चरण में 42 जिलों में परीक्षा केंद्र बनाने पर सहमति बनी है। अन्य जिलों में केेंद्रों की तलाश की जा रही है। कंप्यूटर के साथ ही परीक्षा की जिम्मेदारी निजी एजेंसी को दी जाएगी।

संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद के प्रभारी सचिव, राम रतन ने बताया कि पॉलीटेक्निक प्रवेश के लिए आवेदन प्रक्रिया चल रही है। पहली बार पूरे प्रदेश में सभी ग्रुपों की ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा होगी। कोरोना संक्रमण के चलते एक बार फिर आवेदन की अंतिम तिथि को बढ़ा दी गई है। परीक्षा तिथि का निर्धारण उच्च अधिकारियों के निर्देश के बाद होगा।

पॉलीटेक्निक पर एक नजर

  • सरकारी संस्थान-150
  • सहायता प्राप्त संस्थान-19
  • निजी संंस्थान-1202
  • कुल सीटें
  • ए ग्रुप-1,12442
  • बी से के ग्रुप-7085
  • फॉर्मेसी-1,5153
  • अब तक आवेदन-2,46024