लखनऊ, जेएनएन। UP Vidhanmandal Monsoon Session- Samajwadi Party Protest: उत्तर प्रदेश विधामंडल के मानसून सत्र के अंतिम दिन नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने सरकार पर बड़ा ही गंभीर आरोप लगाकर सदन से वॉक आउट कर दिया। विधानसभा में काफी देर तक हंगामा करने के बाद अखिलेश यादव विधायकों के साथ सदन से बाहर निकल आए। इसके बाद पैदल ही समाजवादी पार्टी के दफ्तर तक मार्च करते हुए सरकार के खिलाफ प्रदर्शन भी किया।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष तथा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि जनहित से जुड़े मुद्दों को लेकर सरकार से प्रश्नों का उत्तर ना मिलने पर समाजवादी पार्टी ने विधानसभा से वॉकआउट किया है। विधानसभा से समाजवादी पार्टी के वॉकआउट के बाद अखिलेश यादव के नेतृत्व में पार्टी के सभी विधायक सड़क पर उतरे।

विधानमंडल के मानसून सत्र के अंतिम दिन शुक्रवार को दिन में 11 बजे कार्यवाही प्रारंभ होते ही नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने सरकार पर पूछे गए प्रश्नों का उत्तर ना देने का आरोप लगाया। आज विधायी कार्यों के साथ विपक्ष के जबरदस्त हंगामे के आसार पहले से ही दिख रहे थे। सदन में कार्यवाई शुरू होते ही सपा ने वॉक आउट कर दिया और अखिलेश यादव अपने विधायकों के साथ सड़क पर निकल पड़े। उन्होंने विधान भवन के पीछे की तरफ की सड़क से राजभवन होते हुए समाजवादी पार्टी के राज्य मुख्यालय तक पैदल मार्च किया।

अखिलेश यादव ने इस दौरान कहा कि नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो और महिला आयोग के आंकडों के हिसाब से महिलाओं के ऊपर सर्वाधिक उत्पीडऩ तो उत्तर प्रदेश में हो रहा है। मुरादाबाद में कैसे एक महिला को नग्न करके दौड़ाया गया। राज्य में कानून व्यवस्था ठप हो चुकी है और नेताओं पर झूठे मुकदमे लगाए जा रहे हैं।

समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में गरीब तथा किसान परेशान हैं। सूखा और बाढ़ से किसानों को नुकसान हुआ है। लंपी बीमारी से पशुओं की मौत हुई, लेकिन कसानों को कोई राहत नहीं मिल रही है।

अखिलेश यादव के अचानक लिए गए इस फैसले से तो लखनऊ का पुलिस प्रशासन भी हैरान रह गया। सड़क पर उनको रोकने का भी कोई इंतजाम नहीं हो सका। अखिलेश यादव अचानक ही सड़क पर उतर पड़े। उन्होंने पार्टीके विधायकों के साथ सदन से बाहर निकर कर रोड पर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया।

इससे पहले अखिलेश यादव ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को करीब 10:30 बजे आजम खां के खिलाफ कार्रवाई के विरोध में ज्ञापन सौंपा। 12 विधायकों के साथ राजभवन गए सपा प्रमुख इसके बाद सीधा विधान भवन में आज की कार्यवाही में शामिल होने पहुंचे।  

Edited By: Dharmendra Pandey