लखनऊ, राज्य ब्यूरो। कोरोना से बचाव के लिए चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान में यूपी ने एक और नया रिकॉर्ड बनाया है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक 18 वर्ष से अधिक उम्र के 10 करोड़ लोगों ने वैक्सीन की दोनों डोज लगवा ली है। यानि 68 प्रतिशत वयस्कों ने अब तक टीके की दोनों डोज लगवाकर सुरक्षा चक्र मजबूत कर लिया है। वहीं 14.61 करोड़ वयस्कों ने अब तक वैक्सीन की पहली डोज लगवाई है। 99.1 प्रतिशत वयस्क पहली डोज लगवा चुके हैं। प्रदेश में कुल 14.74 करोड़ वयस्कों को टीका लगाया जाना है।

उधर 15 वर्ष से 18 वर्ष के बीच की उम्र के कुल 1.40 करोड़ किशोरों को वैक्सीन लगाई जानी है। अब तक 89.15 लाख वयस्क टीके की पहली डोज लगवा चुके हैं। यानि 63 प्रतिशत ने टीके की पहली डोज लगवा ली है। 57.54 लाख हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर और बीमार बुजुर्गों को भी टीके की सतर्कता (प्रिकाशन) डोज लगाई जानी है। अभी तक 11.51 लाख लोगों ने सतर्कता डोज भी लगवा ली है। देश में सबसे ज्यादा टीके उप्र में लगाए गए हैं। यूपी में कुल 25.67 करोड़ टीके लगाए जा चुके हैं। वहीं दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र में 14.76 करोड़ और तीसरे नंबर पर पश्चिम बंगाल में 12.07 करोड़ टीके लगाए गए हैं।

ओमिक्रोन की दस्तक के बीच टीकाकरण में तेजीः बीच में टीकाकरण अभियान आंशिक रूप से मंद पड़ गया था, लेकिन देश में ओमिक्रोन की दस्तक के बाद यूपी समेत अन्य राज्यों में टीकाकरण में फिर से तेजी आ गई। जिन लोगों ने वैक्सीन की पहली या दूसरी डोज नहीं ली, उन लोगों की वैक्सीनेशन केंद्रों पर कतारें लगने लगीं। इसी दौरान 15 से 18 वर्ष के किशोरों का वैक्सीनेशन शुरू होने से अभिभावकों की चिंताएं काफी हद तक कम हो गई। अब अगले चरण में 15 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के टीकाकरण की भी तैयारी चल रही है।

Edited By: Dharmendra Mishra