लखनऊ, जेएनएन। UP Lockdown Day 3 : उत्तर प्रदेश में पांव पसार रहे कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई और तेज कर दी गई है। योगी सरकार लगातार कोरोना वायरस से संक्रमित और संदिग्ध लोगों के इलाज और जांच की सुविधा में लगातार इजाफा कर रही है। लॉकडाउन के तीसरे दिन शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर 21 दिनों के लॉकडाउन के साथ पूरी प्रतिबद्धता से जुड़ी है। क्योंकि सभी को पता है कि यह कार्रवाई लोगों के स्वास्थ्य और उनके भविष्य के लिए अति आवश्यक है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश के नागरिक जो नौकरी करने विभिन्न राज्यों में गए हैं, उन राज्यों के मुख्यमंत्रियों से मैंने निवेदन किया है कि यूपी के नागरिकों के खाने और रहने की व्यवस्था वहीं करवा दें। इसका जो भी खर्च आएगा वह उत्तर प्रदेश सरकार वहन करगी। योगी ने बताया कि इस संबंध में मेरी महाराष्ट्र, हरियाणा और उत्तराखंड के मुख्यमंत्रियों से बात हुई है। तीनों मुख्यमंत्रियों ने सकारात्मक ढंग से कहा है कि वे ऐसे लोगों की पूरी मदद करेंगे। इस संबंध में मुख्य सचिव ने भी विभिन्न राज्यों के मुख्य सचिव को पत्र लिखा है। ताकि वे सभी लोग यहां आने के बजाए उन्हीं राज्यों में रहें। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सभी अधिकारियों को निर्देश दिये गए हैं वे होम डिलिवरी पर ध्यान दें। लगभाग 18 हजार से अधिक वाहन इस कार्य में लगे हुए हैं। इसके साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए मोहल्लों में किराना की दुकानों को भी खोला जा रहा है। अलग-अलग विभागों के अधिकारियों को भी जिम्मेदारी दी गई है कि वे ध्यान रखें कि किसी को भी कोई समस्या न आने पाए। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गुरुवार को 11 समितियों का गठन किया गया है, जिन्होंने लोगों तक विभिन्न सुविधाओं को पहुंचाने का कार्य शुरू कर दिया है। ये समितियां स्वास्थ्य, खाद्यान्न, दूध-सब्जी, दवा, पशुओं के चारे और अन्य आवश्यक वस्तुओं की कमी नहीं होने देंगी। ये समितियां जमाखोरी और कालाबाजारी को भी रोकने का काम कर रही हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि दूसरे राज्यों के लोग जो उत्तर प्रदेश में रह रहे हैं, उनके स्वास्थ्य और खाद्यान्न की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए 12 राज्यों के लिए नोडल अधिकारी तैनात किये गए हैं। ये नोडल अधिकारी इन राज्यों के नागरिकों की सभी प्रकार की समस्याओं का समाधान करेंगे। इसके साथ ही ये नोडल अधिकारी अन्य राज्यों से समन्वय स्थापित भी करते रहेंगे। ताकि किसी भी नागरिक को कोई असुविधा न हो। 

मुख्यमंंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि अन्य प्रदेशों में रह रहे उत्तर प्रदेश के लोगों को लॉकडाउन के कारण चिंता करने की जरूरत नहीं है। शुक्रवार को उन्होंने देश के 12 अन्य राज्यों में रह रहे उप्र के लोगों को सभी तरह की सुविधाएं दिलाने के लिए इन राज्यों के लिए एक-एक नोडल प्रशासनिक अफसर तैनात करने का निर्देश दिया। इन राज्यों में महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश-तेलंगाना, कर्नाटक, पंजाब, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, हरियाणा, बिहार, गुजरात, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश और दिल्ली शामिल हैं।

इन 12 राज्यों के लिए जो नोडल प्रशासनिक अफसर तैनात किए गए हैं, वे संबंधित राज्य के अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर वहां रह रहे यूपी के नागरिकों को हर तरह की सुविधाएं मुहैया कराने का काम करेंगे। प्रत्येक नोडल अफसर के साथ एक आइपीएस अधिकारी को भी तैनात किया गया है, जो इन राज्यों में उप्र के नागरिकों की समस्याओं का लगातार समाधान करेंगे।

नोडल प्रशासनिक अफसर

  • महाराष्ट्र - नितिन रमेश गोकर्ण, प्रमुख सचिव लोक निर्माण
  • आंध्र प्रदेश और तेलंगाना - टी.वेंकटेश, प्रमुख सचिव सिंचाई
  • कर्नाटक - विजय किरन आनंद, महानिदेशक स्कूल शिक्षा
  • पंजाब - अरविंद कुमार, प्रमुख सचिव ऊर्जा
  • पश्चिम बंगाल - कुमार कमलेश, अपर मुख्य सचिव नियोजन
  • राजस्थान - बाबूलाल मीणा, प्रमुख सचिव उद्यान
  • हरियाणा - आलोक कुमार, प्रमुख सचिव औद्योगिक विकास
  • बिहार - मनोज सिंह, प्रमुख सचिव समाज कल्याण
  • गुजरात - दीपक कुमार, प्रमुख सचिव आवास एवं नगर विकास
  • उत्तराखंड - अनिल कुमार, प्रमुख सचिव होमगार्ड्स
  • मध्य प्रदेश - समीर वर्मा, सचिव लोक निर्माण
  • दिल्ली - स्थानिक आयुक्त पीके सारंगी

नोडल पुलिस अफसर

  • महाराष्ट्र- एसबी शिरोड़कर, एडीजी अभिसूचना
  • कर्नाटक - संजय सिंघल, एडीजी रेलवे
  • पंजाब - विजय प्रकाश, आइजी फायर सर्विसेज
  • पश्चिम बंगाल - नवनीत सिकेरा, आइजी मुख्यालय लखनऊ
  • राजस्थान - ज्योति नारायण, आइजी कानून व्यवस्था
  • हरियाणा -रामकुमार, एडीजी पीएसी
  • बिहार - अशोक कुमार सिंह, एडीजी यातायात
  • गुजरात - डीके ठाकुर, एडीजी एटीएस
  • उत्तराखंड - प्रवीण कुमार, आइजी मेरठ परिक्षेत्र
  • मध्य प्रदेश - दीपक रतन, आइजी यातायात

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस