लखनऊ, जेएनएन। विधान मंडल का शीतकालीन सत्र 18 दिसंबर से शुरू होगा। राज्यपाल राम नाईक ने बुधवार को राज्य विधान मंडल के दोनों सदनों विधान सभा व विधान परिषद के तृतीय सत्र को 18 दिसंबर पूर्वाह्न 11 बजे से आहूत करने के लिए सहमति प्रदान कर दी है।

वर्ष 2018 में इस अंतिम सत्र के लंबे समय चलाए जाने की उम्मीद नहीं फिर भी विपक्ष सरकार पर हमलावर रहेगा। बकाया गन्ना मूल्य, बिगड़ी हुई कानून-व्यवस्था,धान खरीद व मिट्टी नमूना घोटाला जैसे मुद्दे सरकार के लिए सिरदर्द बनेंगे। हालांकि नेता विरोधी दल रामगोविंद चौधरी का स्वास्थ्य ठीक नहीं होने के कारण विपक्ष के हमलों की धार अपेक्षाकृत तीखी नहीं रहेगी। लोकसभा चुनाव से पूर्व सरकार विकास कार्यों को रफ्तार देने के लिए द्वितीय अनुपूरक बजट लाने की तैयारी कर रही है। सत्र के पहले दिन विधायक रामकुमार वर्मा के निधन पर शोक के कारण कार्य नहीं होगा।

 

Posted By: Anurag Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप