UP ITI Admission 2022: लखनऊ, राज्य ब्यूरो। उत्तर प्रदेश में राजकीय और निजी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (ITI) में अगस्त से शुरू होने वाले प्रशिक्षण सत्र में प्रवेश लेने के लिए अभ्यर्थी सात से 31 जुलाई तक आनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन शुल्क का भुगतान होने पर अभ्यर्थी अपने फार्म का प्रिंट आउट ले सकेगा। आनलाइन आवेदन में हुई त्रुटियों के संशोधन के लिए दो दिन का समय मिलेगा।

विशेष सचिव व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास अभिषेक सिंह ने बताया कि अभ्यर्थी को आनलाइन आवेदन करने के लिए वेबसाइट scvtup.in पर प्रक्रिया पूरी करनी होगी। हर अभ्यर्थी को आनलाइन आवेदन से पूर्व ओटीपी से मोबाइल नंबर का सत्यापन कराना होगा।

उन्होंने बताया कि फार्म भरने के बाद उसे आनलाइन भुगतान भी करना होगा। भुगतान डेबिट, क्रेडिट कार्ड, इंटरनेट बैंकिंग व यूपीआइ के माध्यम से कर सकता है। आवेदन शुल्क का भुगतान होने पर अभ्यर्थी अपने फार्म का प्रिंट आउट ले सकेगा।

विशेष सचिव ने बताया कि आनलाइन आवेदन में सहायता के लिए विवरणी ई-फार्म में वेबसाइट scvtup.in पर उपलब्ध है। प्रवेश पंजीकरण शुल्क सामान्य व पिछड़ा वर्ग के लिए 250 रुपये और अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के लिए शुल्क 150 रुपये है। प्रवेश संबंधित किसी प्रकार की जानकारी लेने के लिए हेल्प डेस्क नंबर 0522-4150500, 7897992063 व दूरभाष 0522-4047658, 9628372929 पर संपर्क किया जा सकता है।

बता दें कि नौकरी हासिल करने के लिए आइटीआइ कोर्स बेतहर विकल्प बनता जा रहा है। 10वीं के बाद अभ्यर्थी आइटीआइ के विभिन्‍न ट्रेडों में छह महीने से लेकर दो साल तक के डिप्लोमा कर अच्‍छा करियर बना रहे हैं। औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान भी पालिटेक्निक की तरह ही एक संस्थान है, जहां पर छात्र 10वीं के बाद किसी विषय से संबंधित डिप्लोमा प्राप्त कर सकते हैं।

इस कोर्स का छात्रों के बीच पॉपुलर होने का कारण इंजीनियरिंग या गैर-इंजीनियरिंग ट्रेडों में इसके द्वारा डिजाइन स्किल डेवेलपमेंट से जुड़े सिलेबस तथा कोर्सेज पर फोकस करना है। आइटीआइ करने के बाद जो छात्र आगे पढ़ाई करना चाहते हैं वे पालिटेक्निक कर सकते हैं। इसके अलावा इसमें कई इंजीनियरिंग डिप्लोमा कोर्स, ऑल इंडिया ट्रेड टेस्ट, अप्रेंटिसशिप और कई स्पेशलाइज्ड शॉर्ट टर्म कोर्सेज के आप्‍शन भी मिल जाएंगे।

Edited By: Umesh Tiwari