लखनऊ (जेएनएन)। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार का दूसरा बजट पेश करने से पहले वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल बेहद उत्साहित थे। विधान भवन प्रांगण में जाने से पहले उन्होंने कहा कि अब प्रदेश में सिर्फ और सिर्फ विकास की योजना दिखेंगी। अब लूट करने का सारा मौका हम गायब कर दे रहे हैं।

वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश के बजट 2018-19 में हर वर्ग और हर क्षेत्र का ध्यान रखा गया है। सरकार बजट का एक-एक पैसा जनता तक पहुंचाएगी। वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने कहा कि बजट 22 करोड़ लोगों की जनाकांक्षाओं पर काफी खरा उतरेगा। उन्होंने कहा कि किसानों को लेकर बजट में कई योजनाओं के तहत प्रावधान किए गए हैं।

वित्त मंत्री ने यह शेर कहकर बजट पेश किया

साहिल से मुस्कुरा के तमाशा न देखिये 

हमने ये खस्ता नाव विरासत में पायी है

बारिश के इंतज़ार में सर्दियाँ गुजऱ गयी

उठो जमी को चीर के पानी निकाल लो।

वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि बजट लूट के लिए नहीं होगा। उन्होंने कहा कि बजट में विकास के लिए योजनाओं का ध्यान रखा गया है। मंत्री राजेश अग्रवाल ने कहा बजट में हर वर्ग और हर क्षेत्र का ध्यान रखा गया है। उन्होंने कहा किसानों को लेकर बजट में कई योजनाओं के तहत प्रावधान किए गए हैं। यह केंद्र की मोदी सरकार की योजनाओं को यूपी में लागू करने के लिए बजट में प्रावधान होगा। केंद्रीय बजट में यूपी के लिए निर्धारित योजनाओं के लिए बजट में इंतजाम किया गया है।

उन्होंने कहा कि विपक्ष के आरोप झूठे हैं। हम एक-एक पैसा जनता तक पहुंचाएंगे। लूट के लिए महीन विकास के लिए ला रहे हैं योजनाएं। बजट में नौजवानों के लिए रोजगार का रास्ता खोलेगें। यूपी के उपभोक्ता पर जीएसटी का कोई असर नही पड़ा है। हम धीरे धीरे अपनी गति पकड़ रहे हैं। हम यहां पर आबकारी और परिवहन से मिलने वाला राजस्व भी महत्वपूर्ण। इसके साथ ही किसी तरह का अतिरिक्त कर थोपने की बात मिथ्या है। जीएसटी अपने आप में सम्पूर्ण हैं। 

Posted By: Dharmendra Pandey