UP Electricity New Rate: लखनऊ, राज्य ब्यूरो। उत्तर प्रदेश विद्युत नियामक आयोग (Uttar Pradesh Electricity Regulatory Commission) द्वारा 23 जुलाई को घोषित बिजली की नई दरें (Electricity New Rate) गुरुवार से राज्य में लागू हो जाएंगी। राहत देने वाली बात यह है कि दरों के यथावत रहने के साथ ही अबकी 21 स्लैब घटने से किसी का बिजली का बिल (Electricity Bill) बढ़ने वाला नहीं है। 100 से कम और 500 यूनिट से ज्यादा बिजली का उपभोग करने वाले घरेलू उपभोक्ताओं का बिजली का बिल कुछ कम हो सकता है।

उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन के अध्यक्ष एम. देवराज ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए आयोग द्वारा अनुमोदित रेट शेड्यल की सार्वजनिक सूचना पिछले दिनों प्रकाशित कराई जा चुकी है। गुरुवार चार अगस्त से नई दरों के आधार पर ही बिलिंग होगी। इसके लिए सभी तरह की तैयारी पूरी कर ली गई है।

उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन के अध्यक्ष एम. देवराज ने बताया कि प्रदेश के कुछ हिस्से में किसानों के ट्यूबवेल की बिजली महंगी होने की बात कही जा रही है। इस तरह की अफवाह पर ध्यान देने की आवश्यकता नहीं है। सिर्फ एनर्जी आडिट के लिए ट्यूबवेल कनेक्शन पर मीटर लगाए जा रहे हैं। किसान पहले की ही तरह ट्यूबवेल का बिल देते रहेंगे। उनका बिल बढ़ने वाला नहीं है।

गौरतलब है कि आयोग द्वारा 23 जुलाई को घोषित टैरिफ में बिजली की दरें तो यथावत रही ही हैं, स्लैब 80 से 59 किए जाने से ज्यादातर श्रेणियों के उपभोक्ताओं को कुछ न कुछ राहत भी मिलना तय है। नई दरें लागू होने से तकरीबन 1.39 करोड़ गरीबों की बिजली और सस्ती हो जाएगी। नोएडा पावर कंपनी लिमिटेड (एनपीसीएल) के उपभोक्ताओं की बिजली सीधे तौर पर 10 प्रतिशत सस्ती हो जाएगी।

शहरी घरेलू उपभोक्ताओं की प्रति यूनिट बिजली दर (रुपये में)

  • वर्तमान दर - नई दर
  • यूनिट - दर - यूनिट - दर
  • 000-150 - 5.50 - 000-100 - 5.50
  • 151-300 - 6.00 - 101-150 - 5.50
  • 301-500 - 6.50 - 151-300 - 6.00
  • 500 के ऊपर - 7.00 - 300 के ऊपर - 6.50

ग्रामीण घरेलू उपभोक्ताओं की प्रति यूनिट बिजली दर (रुपये में)

  • यूनिट - दर - यूनिट - दर
  • 000-100 - 3.35 - 000-100 - 3.35
  • 101-150 - 3.85 - 101-150 - 3.85
  • 151-300 - 5.00 - 151-300 - 5.00
  • 300 के ऊपर-6.00 - 300 के ऊपर - 5.50

Edited By: Umesh Tiwari