लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में विधनासभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के 12 दिन पहले तक नेताओं के पाला बदलने का सिलसिला जारी है। लखनऊ में शनिवार को बहुजन समाज पार्टी के साथ ही समाजवादी पार्टी के नेता अपने समर्थकों के साथ भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए। इनको भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने पार्टी की सदस्यता दिलाई।

भारतीय जनता पार्टी की रामप्रकाश गुप्ता की सरकार में राज्य मंत्री और मायावती की सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे रंगनाथ मिश्रा भदोही की औराई से विधायक हुआ करते थे। बीते दिनों वह भाजपा के नेताओं के साथ काफी सक्रिय थे। रंगनाथ मिश्र के साथ भदोही के उनके समर्थकों ने भी भाजपा की सदस्यता ली है। रंगनाथ मिश्रा भाजपा से 1993, 1997, 2005 और बसपा से 2007 में कुल चार बार विधायक रहे। उत्तर प्रदेश सरकार में गृह मंत्री, शिक्षा मंत्री, ऊर्जा मंत्री, परिवार कल्याण मंत्री, और वन मंत्री जैसे महत्वपूर्ण विभागों में मंत्री पद पर रहे। 2007 के चुनाव में उन्होंने बसपा विधानसभा चुनाव में जीत हासिल कर मायावती की सरकार में माध्यमिक शिक्षा मंत्री बने। 2012 विधानसभा चुनाव में मिर्जापुर और पिछले विधानसभा चुनाव में बसपा ने उन्हें भदोही विधानसभा से टिकट दिया लेकिन दोनो ही चुनाव में उन्हें हार मिली।

रंगनाथ मिश्र के अलावा समाजवादी पार्टी से विधायक रहे मनीष रावत ने भी शनिवार को भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है। मनीष रावत सीतापुर के सिधौली से विधायक थे। सपा ने इस बार उनकी जगह पर बसपा से सपा में शामिल होने वाले हरगोविंद भार्गव को प्रत्याशी बनाया है। समाजवादी पार्टी से टिकट कटने के बाद जनता के बीच में जाकर पूर्व विधायक मनीष रावत फूट-फूटकर रोए थे। उन्होंने सपा पर गंभीर आरोप लगाए। मनीष रावत बोले कि आखिरकार पैसा जीत ही गया और सिधौली की जनता की मेहनत हार गई। समाजवादी पार्टी ने मनीष रावत की सास लखनऊ के मोहनलालगंज से पूर्व सांसद सुशीला सरोज को मलिहाबाद से प्रत्याशी बनाया है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने इन दोनों नेताओं को भाजपा की सदस्यता दिलाने के बाद मीडिया को भी संबोधित किया। उन्होंने समाजवादी पार्टी पर हमला बोला। स्वतंत्रदेव ने कहा कि सपा ने किसानों की प्रगति रुकवाई है। इनके शासनकाल में तो जनता बिजली पाने को तरसती थी। भाजपा जनकल्याण की बात करती है तो समाजवादी पार्टी गन की बात करती है। 

उधर वारणसी में भाजपा की ज्वाइनिंग समिति के प्रमुख डा. लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने कांग्रेस के पूर्व जिला पंचायत सदस्य डॉ. हर्षवर्धन सिंह, प्रयागराज के प्रमोद चंद त्रिपाठी तथा वरिष्ठ नेता मधुकर पाण्डेय ने पार्टी की सदस्यता दिलाई।डा. बाजपेयी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनेगी। भाजपा सरकार के कार्यकाल में ही आजम खां के कब्जे में जाने वाली जमीन को खाली कराया गया है। कांग्रेस ने तो सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाए थे। इनके बारे में कुछ भी कहना बेकार है।

Edited By: Dharmendra Pandey