लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। उत्तर प्रदेश में कोरोना से संक्रमित 32 नए रोगी मिले और किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई। संक्रमण अब तेजी से काबू में आ रहा है। 55 जिलों में कोरोना का एक भी मरीज नहीं मिला, जबकि 20 जिलों में इकाई में मरीज मिले। नौ जिले कोरोना मुक्त हो चुके हैं। इसमें अलीगढ़, अमरोहा, बस्ती, एटा, हाथरस, कासगंज, कौशांबी, महोबा, मुरादाबाद और श्रावस्ती शामिल हैं।

उत्तर प्रदेश में अब सक्रिय केस 712 हैं। बीते 24 घंटे में 2.51 लाख लोगों की कोरोना जांच की गई और अब तक कुल 6.55 करोड़ लोगों का कोरोना टेस्ट कराया जा चुका है। अब पाजिटिविटी रेट 0.01 प्रतिशत है। अब तक कुल 17.08 लाख लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैैं, जिसमें 16.84 लाख लोग ठीक हो चुके हैं। अब तक 22,756 लोगों की कोरोना से मौत हुई है।

उत्तर प्रदेश में कोरोना की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए मेडिकल कालेजों व अस्पतालों में उपचार के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं। मेडिकल कालेजों में अब तक 6572 पीडियाट्रिक आइसीयू (पीकू) के बेड व आइसोलेशन बेड तैयार किए जा चुके हैं। बीती 28 जुलाई को अचानक 89 मरीज मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गई थी, लेकिन बीते तीन दिनों से फिर रोगियों की संख्या घटते क्रम में है। 29 व 30 जुलाई को क्रमश: 60 और 42 मरीज मिले थे। शनिवार को मरीजों की यह संख्या और घट गई।

अब तक कुल 4.82 करोड़ वैक्सीन लगाकर यूपी अव्वल : यूपी में कोरोना से बचाव के लिए चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान में अब तक कुल 4.82 करोड़ टीके लगाए जा चुके हैं। देश में सबसे ज्यादा टीके उप्र में लगाए गए हैं। शनिवार को टीके की पहली डोज लगवाने वालों का आंकड़ा भी चार करोड़ के पार पहुंच गया। अब तक 4.04 करोड़ ने वैक्सीन की पहली और 77.88 लाख ने दूसरी डोज लगवाई है। शनिवार को 5.98 लाख लोगों ने वैक्सीन लगवाई।  प्रदेश में सबसे ज्यादा टीके युवाओं ने लगवाए हैं। 18 वर्ष से लेकर 44 वर्ष की उम्र के अब तक 2.24 करोड़ लोगों ने वैक्सीन लगवाई है। 45 वर्ष से लेकर 60 वर्ष की उम्र के 1.56 करोड़ और 60 वर्ष से अधिक आयु के एक करोड़ लोगों ने टीका लगवाया है। टीका लगवाने में महिलाओं के मुकाबले पुरुष आगे हैं। अब तक 2.74 करोड़ पुरुषों और 2.08 करोड़ महिलाओं ने वैक्सीन लगवाई है।

Edited By: Umesh Tiwari