लखनऊ, जेएनएन। समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश के विधानसभा सभा चुनाव में जहां आधा दर्जन से अधिक छोटे दलों से गठबंधन कर प्रदेश में सरकार बनाने के प्रयास में लगी है, वहीं पार्टी के एक नेता ने टिकट ना मिलने के गम में रविवार को आत्मदाह का प्रयास किया। टिकट पाने की आशा में लम्बे समय से लगे आदित्य ठाकुर ने शरीर पर पेट्रोल डालकर आग लगाने का प्रयास किया। पुलिस ने उनको हिरासत में लिया है।

लखनऊ में रविवार को करीब 11 बजे दिन में समाजवादी पार्टी के प्रदेश मुख्यालय के बाहर खलबली मच गई। यहां पर पार्टी के नेता आदित्य ठाकुर ने आत्मदाह का प्रयास किया। अलीगढ़ के छर्रा से टिकट पाने के प्रयास में लम्बे समय से लगे ठाकुर आदित्य सिंह लोधी को जब निराशा मिली तो उन्होंने आत्मदाह का कदम उठाया। अलीगढ़ के आदित्य ठाकुर ने समाजवादी पार्टी कार्यालय के बाहर खुद पर पेट्रोल डालकर आत्मदाह की कोशिश की। उन्होंने कहा कि उन्होंने अपनी पूरी जवानी और जीवन को पार्टी के लिए खपा दिया है। वह अलीगढ़ के छर्रा से टिकट नहीं मिलने नाराज हैं। पुलिस ने आदित्य ठाकुर को हिरासत में ले लिया है। उनको मेडिकल के लिए सिविल अस्पताल भेजा गया है।

विक्रमादित्य मार्ग स्थित समाजवादी पार्टी कार्यालय के बाहर रविवार को पार्टी कार्यकर्ता ने आत्मदाह का प्रयास किया। पुलिसकर्मियों ने कार्यकर्ता को पकड़ लिया और अस्पताल पहुंचाया। पुलिस का कहना है कि अलीगढ़ के ठाकुर आदित्य अपने समर्थकों के साथ सपा कार्यालय आए थे। आदित्य बोतल में पेट्रोल लेकर आए थे और अचानक से अपने ऊपर पेट्रोल उड़ेलकर आग लगाने की कोशिश की। यह देख पुलिसकर्मियों ने आदित्य को पकड़ लिया। आदित्य ने पार्टी के शीर्ष नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए। कहा कि पांच साल से अलीगढ़ के 74 छर्रा विधानसभा क्षेत्र में वह पार्टी के लिए काम कर रहे हैं। बावजूद इसके उन्हें टिकट नहीं दिया गया।

आरोप है कि आदित्य ने टिकट की दावेदारी की थी, लेकिन उनकी जगह किसी और को टिकट दे दिया गया। अब इस बारे में कोई भी पदाधिकारी जवाब नहीं दे रहा है। आदित्य ने कहा कि उन्हें आत्मदाह करने से कोई नहीं रोक सकता। वह 10 बोतल पेट्रोल लेकर आए हैं। आदित्य की इस हरकत से सपा कार्यालय के बाहर अफरातफरी मच गई। हालांकि, हंगामे के बावजूद सपा कार्यालय से कोई नेता या पदाधिकारी बाहर नहीं आया।

Edited By: Dharmendra Pandey