लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेज इंटेलीजेंस (आइएसआइ) समर्थित माड्यूल के आतंकियों का अहम साथी आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) के हाथ लगा है। एटीएस प्रयागराज के करेली निवासी हुमेदुर्रहमान को हिरासत में लिया है, जिससे पूछताछ की जा रही है। वह मंगलवार को प्रयागराज से पकड़े गए आतंकी प्रयागराज निवासी जीशान कमर का बेहद करीबी बताया जा रहा है।

सूत्रों का कहना है कि प्रयागराज से बरामद विस्फोट को लेकर भी उससे पूछताछ की जा रही है। इससे पूर्व करेली के तिरंगा चौराहे पर पाकिस्तान का झंडा लहराने के मामले में भी उसका नाम सामने आया था। उसके तार सीधे आइएसआइ से जुड़े बताए जा रहे हैं। हुमेदुर्रहमान से पूछताछ में आइएसआइ समर्थित माड्यूल की अहम जानकारियां सामने आने की उम्मीद है। वहीं आइजी एटीएस जीके गोस्वामी दिल्ली गए हैं। जल्द एटीएस के कुछ अन्य अधिकारियों की टीम भी दिल्ली के लिए रवाना होगी।

एटीएस जीशान व उसके साथियों से कई बिंदुओं पर पूछताछ करेगी। प्रदेश को दहलाने की साजिश से जुड़े कई अन्य संदिग्ध भी एटीएस के रडार पर हैं। प्रयागराज से पकड़े गए हुमेदुर्रहमान से जुड़े रहे कुछ युवकों के बारे में भी छानबीन की जा रही है। लखनऊ से विस्फोट व हथियार प्रयागराज पहुंचाए जाने में भी उसकी भूमिका की जांच की जा रही है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल हुमेदुर्रहमान को माड्यूल का मास्टरमाइंड मान रही है।

उधर, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल आइएसआइ समर्थित माड्यूल के आतंकी जान मु.शेख, ओसामा, मूलचंद्र, जीशान कमर, अबु बकर व मु.आमिर को पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही है। आतंकियों से पूछताछ में भी हुमेदुर्रहमान के बारे में अहम जानकारियां मिली थीं। जांच एजेंसियों आतंकियों से जुड़ी अहम जानकारियों को एक-दूसरे से साझा कर रही हैं। पकड़े गए आतंकियों व उनके करीबियों की इंटरनेट मीडिया पर बीते दिनों की गतिविधियों को भी खंगाला जा रहा है। एटीएस कुछ संदिग्धों की काल डिटेल भी खंगाल रही है।

Edited By: Umesh Tiwari