बहराइच, संवाद सूत्र। खैरीघाट थाना क्षेत्र के बेहड़ा गांव में बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे खड़े पांच लोगों पर बिजली आफत बनकर टूट पड़ी। बिजली गिरने से किसान समेत दो लोगों की मौत हो गई। गंभीर रूप से झुलसे वृद्ध समेत तीन लोगों को मेडिकल कालेज रेफर किया गया है। हादसे के बाद सभी के परिवार में कोहराम मच गया। बेहड़ा गांव के किसान संतोष कुमार (45) ट्रैक्टर लेकर खेत की जोताई करने गए थे। गांव के ही चंदन (30), जगदीश (60), ध्रुव कुमार (25), साकिर (42) पुत्र असगर तंटबंध के निकट मवेशी चरा रहे थे। इसी दौरान तेज हवाओं के साथ बारिश शुरू हो गई।

सभी लोग बारिश से बचने के लिए आम के पेड़ के नीचे खड़े हो गए। अचानक गड़गड़ाहट के साथ पेड़ पर बिजली गिर गई। इसकी चपेट में आकर सभी लोग गंभीर रूप से झुलस गए। ग्रामीणों ने घटना की सूचना परिवार के लोगों को दी। परिवारजन इलाज के लिए खैरीघाट ले गए। हालत गंभीर देख चिकित्सकों ने संतोष व चंदन को सीएचसी शिवपुर भेजा, जहां उनकी मौत हो गई। डा. नलिन राजा ने बताया कि जगदीश, ध्रुवकुमार व साकिर को मेडिकल कालेज रेफर किया गया है। एसओ राजकुमार सिंह ने बताया कि बिजली गिरने से पांच लोग झुलसे थे, जिनमें दो लोगों की मौत हुई है।

तेज हवाओं के साथ बारिश से पकी फसलों को नुकसान: तराई में रविवार दोपहर बाद अचानक मौसम का मिजाज बदल गया। तेज हवाओं के साथ झमाझम बारिश शुरू हो गई। पकने के बाद काटी गई धान की फसल में पानी भर जाने से नुकसान का अंदेशा है। तेज आंधी के चलते पेड़ जमींदोज हो गए। इससे आवागमन प्रभावित हुआ। बिजली आपूर्ति व्यवस्था भी चौपट हो गई। कई दिनों से चिलचिलाती धूप से लोग परेशान थे। दोपहर बाद अचानक मौसम बदल गया। तेज हवाओं के साथ बारिश शुरू हो गई। खेतों में फसलें गिर गई। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार पांच मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई है। इससे गन्ना, आलू, राई-सरसो व सब्जियों की बोआई पिछड़ना तय है।

Edited By: Vikas Mishra