बाराबंकी, जेएनएन। वैश्विक महामारी से पूरा प्रदेश में हाहाकार मचा है। ऐसे में बाराबंकी जिले से मानवता को शर्मसार करने वाली खबर सामने आ रही है। यहां मेयो कोविड हास्पिटल के दो चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी कोरोना संक्रमण से मरने वालों का सामान चुराने का काम करते पकड़े गए। पुलिस ने दो कर्मचारियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से दो मोबाइल भी बरामद किए हैं। बताया जा रहा है कि चेन आदि चोरी भी करते थे। 

लखनऊ के विनीत खंड गोमती नगर के एक व्यक्ति ने 29 अप्रैल को नगर कोतवाली में तहरीर दी कि 24 अप्रैल को इलाज दौरान मेयो हास्पिटल गदिया में उसकी कोरोना संक्रमित पत्नी की मौत हो गई। हास्पिटल से सामान में मोबाइल फोन नहीं मिला। इससे पहले 22 अप्रैल को लखनऊ की ही एक महिला ने ई-एफआईआर के माध्यम से सूचना दी कि उसके पति की मौत इलाज के दौरान  17 अप्रैल को हो गयी थी। सामान में पति का मोबाइल फोन नहीं मिला।

पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने बताया कि जांच में दो चतुर्थश्रेणी कर्मचारियों थाना टिकैतनगर के ग्राम विद्यानगर की रंजना व नगर कोतवाली के पलिया मसूदपुर के उमेश के नाम सामने आए। दोनों जिन्होंने मोबाइल चोरी की बात कबूल की। मोबाइल बरामद कर संबंधित को दे दिए गए हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप