लखनऊ। लगातार चढ़ता पारा गुरुवार को थोड़ा नीचे आया था। आज धूप की तपिश और लू की मार बरकरार रही। शुष्क मौसम की वजह से गर्मी के तेवर जस के तस हैं और यह जान पर भी भारी पडऩे लगी है। बलिया में गर्मी की वजह से एक की मौत हो गई जो इस वर्ष प्रदेश में पहला मामला है। मौसम की बेरहमी के चलते अस्पतालों में डायरिया, हीट स्ट्रोक से पीडि़त मरीजों की भीड़ बढऩे लगी है। पूर्वांचल व अवध क्षेत्र के कई जिलों में दर्जनों मरीज भर्ती हुए हैं। हालांकि मौसम विभाग की माने तो बादलों की आवाजाही के बीच आंधी आने की संभावना है।

बलिया के मझौवां दियारे में जनार्दन राम खेत की रखवाली करने गया था जहां लू लगने से उसकी मौत हो गई। वहीं, प्रदेशभर में सबसे गर्म चल रहे इलाहाबाद में पारा 45.3 डिग्री सेल्सियस से गिरकर 44 डिग्री सेल्सियस पर आ गया है, लेकिन अभी भी यह अन्य शहरों के मुकाबले सबसे शहर सबसे गर्म है। दिन भर तेज धूप आंच की मानिंद महसूस हुई।

वाराणसी में भी पारा 44.2 से कम होकर 42.2 डिग्री सेल्सियस पर आ गया। वहीं पूर्वांचल के अन्य जिलों सोनभद्र, गाजीपुर, मऊ,आजमगढ़, जौनपुर, मीरजापुर, भदोही व चंदौली में भी धूप व लू के थपेड़ों से लोग दिनभर परेशान रहे। गोरखपुर में तापमान लगातार तीसरे दिन 40 डिग्री के ऊपर रहा। लखनऊ व कानपुर समेत अवध क्षेत्र के जिलों में भी लू और अंधड़ से लोगों को खासी परेशानी उठानी पड़ी। तापमान 40 से 41 डिग्री सेल्सियस बना रहा।

Posted By: Ashish Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस