बाराबंकी, संवाद सूत्र। आजादी के अमृत महोत्सव में शामिल होकर तिरंगा हाथ में लिए, खुशी -खुशी छोटी बहन के साथ स्कूल से घर जा रही एक छात्रा हादसे का शिकार हो गई। रास्ते में एक पेड़ की मोटी डाल छात्रा के ऊपर गिरने से नीचे दबकर उसकी दर्दनाक मौत हो गई। इस घटना से छात्रा के घरवालों को रो-रोकर बुरा हाल है। इस हादसे में कई बच्चे घायल भी हुए हैं। 

सोमवार को आजादी की 75 वीं वर्षगांठ पर अमृत महोत्सव में शामिल होने के लिए मौलवी गंज निवासी सुहानी गुप्ता पुत्री उत्तम गुप्ता(16) अपनी छोटी बहन जान्हवी गुप्ता के साथ साइकिल से अपने स्कूल नेशनल इंटर कालेज गई थी। स्कूल में स्वतंत्रता दिवस मनाने के बाद जब वह हाथ में तिरंगा झंडा लेकर बहन के साथ साइकिल से घर वापस जा रही थी, इसी दौरान रास्ते में जामुन के पेड़ की एक मोटी डाल उसके ऊपर गिर गई। छात्रा ने डाल के नीचे दबने से दम तोड़ दिया। इस हादसे में उसकी छोटी बहन भी घायल हो गई। सीएचसी पहुंचने पर चिकित्सक ने सुहानी गुप्ता को मृत घोषित कर दिया।

सुबह से ही स्कूलों की प्रभात फेरी सड़क से निकाली जा रही थी, उस समय यदि यह हादसा होता तो बड़ी दुर्घटना हो सकती थी। जानकारी के मुताबिक, इस दौरान कुछ अन्य विद्यार्थी जो उस समय सड़क से निकल रहे थे, वह भी घायल हुए है। मृतक छात्रा की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है। मृतक सुहानी की पिता उत्तम गुप्ता होटल चला कर किसी तरह अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं। घटना के बाद वह पूरी तरह टूट गए। परिवार के अन्य सदस्यों का भी रो-रोकर बुरा हाल है। 

Edited By: Vikas Mishra