लखनऊ, जेएनएन। चांद के दीदार को आसमान की ओर से रोजेदारों की निगाहें टिकी रहीं। मंगलवार की शाम आसमान में चांद की एक झलक मिलते ही रोजेदारों के चेहरे खुशी से खिल उठे। रोजेदारों ने एक-दूसरे को गले लगाकर ईद की मुबारकबाद दी। मंगलवार की शाम 29वीं का चांद होने के बाद शिया-सुन्नी चांद कमेटी ने बुधवार को ईद-उल-फित्र का त्योहार मनाने का एलान किया। 

29वीं के चांद के दीदार के लिए शाम से ही आसमान में लोगों की निगाहें टिकी रही। हर कोई अपने छत पर चांद के दीदार को बेकरार रहा। मरकजी चांद कमेटी की ओर से ऐशबाग ईदगाह में चांद देखने के लिए विशेष इंतजाम किए गए। कमेटी के अध्यक्ष मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली सहित अन्य उलमा अपनी-अपनी दूरबीन के साथ चांद की एक झलक पाने को आसमान में नजरे गड़ाए रहे।

आसमान में 29 वीं का चांद नजर आने के बाद मौलाना ने रोजेदारों को मुबारकबाद देते हुए बुधवार को ईद होने का एलान किया। वहीं, मरकजी शिया चांद कमेटी की ओर से हुसैनाबाद के ऐतिहासिक सतखंडा में भी चांद देखने के लिए उलमा सहित लोगों की भीड़ जुटी रही। आसमान में चांद की झलक मिलने के बाद चांद कमेटी के अध्यक्ष मौलाना सैफ अब्बास ने 29वीं का चांद होने पर बुधवार को ईद-उल-फित्र का त्योहार मनाने का एलान कर दिया है। इसी तरह काजी-ए-शहर मुफ्ती इरफान मियां फरंगी महली ने भी मंगलवार को 29वीं का चांद होने की तस्दीक कर बुधवार को ईद का त्योहार मनाने का एलान किया।

 

फित्रा दिए बिना खुशियां अधूरी
ईद की नमाज से पहले सदका-ए-फित्र निकालना वाजिब है। त्योहार के दिन परिवार के मुखिया को अन्य सदस्यों की ओर से फित्रे की रकम निकालना होगा। साथ ही उस रकम को समय रहते गरीबों तक पहुंचाना भी होगा। सदका-ए-फित्र बीते एक महीने के रोजे को कबूल कराने के लिए निकाला जाती है। इसबार शिया समुदाय को प्रति व्यक्ति 75 रुपये व सुन्नी समुदाय को प्रति व्यक्ति 45 रुपये फित्रा देना होगा। यह रकम परिवार के प्रत्येक सदस्य के नाम से निकाली जाएगी। इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली व आयतुल्ला सादिक हुसैनी शिराजी कार्यालय के मौलाना सैफ अब्बास ने सदका-ए-फित्र की रकम का एलान कर दिया है। मौलाना ने ईद की नमाज से पहले गरीब के घर जाकर फित्रे की रकम देने की अपील की है।  

 

ईद पर बदली रहेगी यातायात व्यवस्था
ईद के पर्व पर पुराने लखनऊ की यातायात व्यवस्था बदली रहेगी। यह डायवर्जन व्यवस्था चंद्र दर्शन के अनुसार बुधवार सुबह छह बजे से नमाज की समाप्ति तक प्रभावित रहेगी। इस दौरान वाहन चालकों को वैकल्पिक मार्गों का प्रयोग करना होगा। यह जानकारी एएसपी ट्रैफिक पूर्णेन्दु सिंह ने दी। 

  • इधर से नहीं जा सकेंगे 
  • सीतापुर रोड से आने वाले वाहन पक्का पुल की ओर नहीं जा सकेंगे। 
  •  पक्का पुल खदरा साइड से आने वाले वाहन, इमामबाड़े की ओर  नहीं जा सकेंगे
  •  हरदोई रोड, बालागंज चुंगी से आने वाले वाहन बड़े इमामबाड़े व टीले वाली मस्जिद की ओर नहीं जा सकेंगे
  •  कोनेश्वर चौराहे से घंटाघर को नहीं जा सकेंगे। 
  •  घंटाघर तिराहा, चौक व नींबू पार्क तिराहा से वाहन बड़ा इमामबाड़ा एवं टीले वाली मस्जिद को जाने वाले वाहनों को नींबू पार्क के पीछे से मोड़ दिया जाएगा।
  •  चौक तिराहे से वाहन नींबू पार्क तिराहे को नहीं जा सकेंगे
  •  मेडिकल क्रास चौराहे से वाहन खुनखुनजी गल्र्स कॉलेज के रास्ते नींबू पार्क की ओर नहीं जा सकेंगे
  •  शाहमीना तिराहे से पक्का पुल की ओर नहीं जा सकेंगे 
  •  डालीगंज पुल, सीतापुर रोड से आने वाली सिटी बस पक्का पुल की ओर नहीं जा सकेंगे।
  •  शाहमीना तिराहा, कैसरबाग और हरदोई रोड को जाने वाली रोडवेज सिटी बस पक्का पुल की ओर नहीं जा सकेंगे।
  • एवरेडी तिराहे से मिल एरिया की ओर बड़े, कामर्शियल वाहन नहीं जा सकेंगे।
  •  रकाबगंज पुल से नक्खास, यहियागंज की ओर नहीं जा सकेंगे।
  •  ऐशबाग पुल के नीचे से आने वाले वाहन ऐशबाग चौकी के रास्ते ऐशबाग को नहीं जा सकेंगे।
  •  राजेन्द्र नगर चौराहे से वाहन ऐशबाग ओवर ब्रिज के रास्ते ईदगाह को नहीं जा सकेंगे। 
  •  बाबू लाल हलवाई व मास्टर कन्हैया लाल रोड से ईदगाह को नहीं जा सकेंगे

इधर जा सकेंगे 

  •  डालीगंज रेलवे क्रासिंग, पुरनियां से बायें कपूरथला चौराहा एवं चौराहा नंबर आठ से आईटी चौराहा के रास्ते जा सकेंगे।
  •  बंधा पुल के नीचे से जा सकेंगे।
  •  कोनेश्वर चौराहे से दाहिने चौक चौराहा, मेडिकल कालेज चौराहा होकर जा सकेंगे।
  •  कोनेश्वर चौराहे से चौक, मेडिकल क्रास, हरदोई रोड के रास्ते जा सकेंगे। 
  •  मेडिकल क्रास होकर जा सकेंगे।
  •  मेडिकल कॉलेज चौराहा, चौक, कोनेश्वर चौराहा के रास्ते जा सकेंगे।
  •  मेडिकल कॉलेज डालीगंज पुल, आईटी होकर जा सकेंगे।
  •  आईटी, कपूरथला, डालीगंज रेलवे क्रासिंग के रास्ते जा सकेंगे।
  •  शाहमीना तिराहे से बायें मेडिकल कालेज, चौक, कोनेश्वर चौराहा के रास्ते के जा सकेंगे। 
  •  मवैया ओवर ब्रिज, काटन मिल, राजाजीपुरम के रास्ते जा सकेंगे। 
  •  मेडिकल कॉलेज होकर जा सकेंगे।
  •  पुल के नीचे से मोतीनगर की ओर डायवर्ट कर दिया जायेगा। 
  •  मोतीनगर होकर अपने गंतव्य को जा सकेंगे। 
  •  बाबू लाल हलवाई चौराहा से दाहिने व बायें से जा सकेंगे।
  • यहां तक जा सकेंगे नमाजियों के वाहन
  • मिल एरिया से बुलाकी अड्डा और तुलसीदास मार्ग तक।
  • बुलाकी अड्डा तिराहे से लालमाधव तक।
  • नाका से ऐशबाग तक।
  • यहियागंज से ईदगाह तक।
  • यहियागंज वाटर बक्स रोड से ऐशबाग ईदगाह की ओर।

यह मार्ग रहेगा पूर्णत: प्रतिबंधित

  •  गूंगा, बहरा व रस्तोगी इंटर कॉलेज की ओर से ऐशबाग ईदगाह।
  •  पीली कॉलोनी के अंदर से ऐशबाग ईदगाह को।
  •  एसएन मिश्रा आवास तिराहे से ऐशबाग ईदगाह की ओर।
  •  मोतीझील कॉलोनी से ऐशबाग ईदगाह की ओर।
  •  अंजुमन चौराहा से ऐशबाग ईदगाह की ओर।

जरूरत पडऩे पर प्रतिबंधित मार्ग से जा सकेंगे इमरजेंसी वाहन 

एएसपी ट्रैफिक ने बताया कि अगर वैकल्पिक मार्गों पर यातायात का दबाव है तो इमरजेंसी वाहन एंबुलेंस, स्कूली वाहन, दमकल और शव वाहन को प्रतिबंधित मार्ग से भी निकाला जाएगा। इसके लिए संबंधित व्यक्ति को ट्रैफिक कंट्रोल रूम के नंबर 0522-2483800 पर सूचना देनी होगी। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Divyansh Rastogi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप