लखनऊ, [जितेंद्र उपाध्याय]। Durga Puja in Lucknow: माडल हाउस दुर्गा पूजा समिति का पंडाल अयोध्या के श्रीराम मंदिर के स्वरूप में नजर आएगा। श्रीराम दरबार के स्थान पर मां दुर्गा की प्रतिमा की स्थापना होगी। कोलकाता के कारीगरों की ओर से इसका निर्माण किया जा रहा है। पूजा समिति के सभापति गौतम भट्टाचार्य ने बताया कि कोलकाता से आए असित मात्या की ओर से निर्माण किया जा रहा है। 75 कारीगर निर्माण में लगे हैं। 80 फीट ऊंचे पंडाल का स्वरूप अयोध्या के निर्माणाधीन श्रीराम मंदिर के फ्रंट जैसा नजर आएगा।

परिसर के अंदर करीब 50 से 100 श्रद्धालु एक साथ पूजन कर सकते हैं। तीन हजार बांसों के साथ ही साढ़े तीन हजार मीटर कपड़े का प्रयोग किया जा रहा है। कपड़े को गुजरात के सूरत से मंगाया गया है। 150 किग्रा लोहे के तार के साथ ही दो हजार पीस थर्माकोल का लगाया जा रहा है। 30 सितंबर तक पंडाल पूरी तरह से तैयार कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इससे पहले बंगाली समाज के सबसे पुराने शक्तिपीठ घसियारी मंडी के कालीबड़ी मंदिर में विशेष पूजन के साथ ही मां का आह्वान किया जाएगा। महापंचमी 30 सितंबर को पंडाल में प्रतिमा की स्थापना होगी। एक अक्टूबर को महाषष्ठी से पूजन शुरू होगा। 

सुनहरी लाइटोंं से चमके मां का दरबारः अयोध्या के श्रीराम मंदिर के स्वरूप के साथ ही रात मेंं कोलकाता से आई चंदरनगर की लाइटोंं से पूरा परिसर जगमगाएगा। सुनहरी रोशनी से नहाए पंडाल में मां की आराधना होगी। इसे लेकर तैयारियां पूरी हो गई हैं। पंडाल के बाहर सेल्फी प्वाइंट होगा। मां के दर्शन के लिए महिलाओं और पुरुषोंं के लिए अलग-अलग व्यवस्था होगी।

संधि पूजा होगी खासः दुर्गा पूजा पंडाल में तीन अक्टूबर को संधि पूजा होगी। अष्टमी और नवमी के बीच वाली यह पूजा 108 कमल के फूलों और 108 दीपकों के साथ दोपहर 3:36 बजे से शाम 4:24 बजे तक होगी। ट्रांस गोमती दुर्गा पूजा कमेटी के प्रवक्ता तुहिन बनर्जी ने बताया कि यह पूजा सभी पंडालों में एक समय होगी।

Edited By: Vikas Mishra