लखनऊ। सोनभद्र में छत्तीसगढ़ सीमा पर नक्सलियों से मोर्चा लेने के लिए उप्र पुलिस ने बभनी थाने पर प्रदेश के सबसे लंबे कद काठी के पीएसी कमांडर चंद्रशेखर को तैनात किया है। वे न सिर्फ पुलिस महकमे बल्कि देश व दुनिया में कद काठी की बदौलत बास्केट बाल के सफल खिलाड़ी के रूप में अपनी पहचान बनाए हुए हैं।

इलाहाबाद के नैनी के साधारण परिवार में जन्मे श्री सिंह ने 1974 में सिपाही के रूप में अपने कॅरियर की शुरुआत की। गंगा किनारे कबड्डी व कुश्ती के माहौल में पले बढ़े छह फुट सात इंच लंबे श्री सिंह ने अपनी किस्मत बास्केटबाल में आजमानी शुरू की। कोच ए. एन. तिवारी ने इस शिष्य को इस कदर तराशा कि कुछ ही दिनों में वह बास्केटबाल के मजे हुए खिलाड़ी के रूप में अपनी पहचान बना ली। 1982 में वे इंडिया टीम की ओर से अंतरराष्ट्रीय बास्केटबाल प्रतियोगिता में शामिल हुए। इसके बाद चंद्रशेखर ने लगातार आठ बार उप्र पुलिस टीम का प्रतिनिधित्व भी किया। श्री सिंह की माने तो उत्तरप्रदेश पुलिस में उनसे अधिक कद काठी के धरम सिंह थे जिनकी लंबाई लगभग छह इंच अधिक थी। दो वर्ष पूर्व उनके सेवानिवृत्त होने के बाद हाल फिलहाल सूबे की पुलिस फोर्स में इन्हें ही सबसे लंबा व्यक्ति होने का गौरव हासिल है।

चंद्रशेखर सिंह की माने तो कंपनी कमांडर तक पहुंचने में कद ने बड़ा काम किया हैं। चंद्रशेखर कहते हैं कि उनके साइज के जूते,कपड़ा व स्वेटर वगैरह के लिए दुकानदारों द्वारा हाथ जोड़ लिए जाने पर उन्हे झेप महसूस होती है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप