लखनऊ, जेएनएन। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल राम नाईक ने बुधवार को राजभवन में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का अनावरण किया। इस मौके पर कई प्रमुख लोग मौजूद रहे। प्रदेश सरकार के निर्देश पर संस्कृति विभाग ने स्वामी विवेकानंद की 12.5 फीट ऊंची कांस्य प्रतिमा बनवाई है। 

राज्यपाल रामनाईक की पहल पर बनी इस प्रतिमा को मुंबई के मूर्तिकार उत्तम पचारणे ने बनाया है। पचारणे केंद्रीय ललित कला अकादमी के अध्यक्ष भी हैं। प्रतिमा का राजभवन में स्थापित करने का उद्देश्य युवा पीढ़ी को स्वामी विवेकानंद के व्यक्तित्व एवं कृतित्व से प्रेरित करना है।

लोकभवन में लगेगी अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा

पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा लोकभवन परिसर में लगाई जानी है। यह प्रतिमा 25 फीट की होगी। इस कांस्य प्रतिमा को जयपुर के एक मूर्तिकार से बनवाया जा रहा है। अटल जी की इस विशाल प्रतिमा के लिए लोकभवन परिसर में एक बड़ा पैडस्टल भी बनाया जाएगा। इसके अलावा महंत अवैधनाथ और उनके गुरु दिग्विजय नाथ की प्रतिमाएं गोरखपुर में स्थापित करवाई जानी हैं। ये प्रतिमाएं भी क्रमश 12.5-12.5 फीट ऊंची होंगी। ये दोनों प्रतिमाएं लखनऊ के मूर्तिकारों से बनवाई जा रही हैं। इसके अलावा प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री हेमवती नंदन बहुगुणा की भी एक प्रतिमा संस्कृति विभाग बनवा रहा है, लेकिन यह प्रतिमा कहां लगेगी, अभी इसका स्थान तय नहीं हुआ है।

Posted By: Umesh Tiwari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप