सुलतानपुर, संवादसूत्र। सुलतानपुर के युवा कांग्रेसियों ने रविवार को टीईटी की परीक्षा निरस्त किए जाने के विरोध में सड़क पर उतर आए। वह सभी एसपी कार्यालय के सामने जमा हो हो गए। वहां सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने सीएम योगी आदित्यनाथ का पुतला भी दहन किया। इसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। 

जानकारी मिलने पर पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। पुलिस व युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच नोकझोंक होने लगी। संगठन के जिलाध्यक्ष वरुण मिश्र ने कहा कि भाजपा सरकार में कोई भी परीक्षा निर्धारित समय पर नहीं हो सकती। अपराधी निर्भय हो गए हैं। जिसका नतीजा है कि टीईटी परीक्षा का पेपर लीक हो गया। लाखों रुपया खर्च करने के बाद नौजवान परीक्षा की तैयारी करता है। जब परीक्षा देने की बारी आती है तो पेपर लीक होने की जानकारी उसे मिलती है।

अब सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरने का समय आ गया है । लोगों ने परीक्षार्थियों के शुल्क वापस किए जाने की मांग की। प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसियों पर जब पुलिस के समझाने का असर नहीं हुआ तो उन्हें हिरासत में ले लिया गया।

सभी प्रदशर्नकारियों को पुलिस लाइन ले जाया गया। वहां प्रदेश महासचिव शकील अंसारी ने कहा कि सरकार सरकार द्वारा आयोजित कोई भी भर्ती या परीक्षा आज तक अपने मुकाम पर नहीं पहुंच पाई । इस कारण से नौजवानों का भरोसा सरकार से उठ चुका है। एनएसयूआइ के जिलाध्यक्ष मानस तिवारी ने कहा कि छात्रों के भविष्य के साथ किसी को भी खिलवाड़ करने नहीं दिया जाएगा। प्रशासन के लोग जितना ही आंदोलन को दबाने की कोशिश करेंगे उतना ही नौजवान सरकार को दबाने के लिए तैयार रहेंगे ।

इस मौके पर जिला उपाध्यक्ष मोहित तिवारी, अर्शी खान लकी, विवेक ओझा, मेराज अहमद आशुतोष मिश्रा, अभिषेक तिवारी, शाहबाज खान शिवेंद्र विक्रम सिंह, गौरव, अभिषेक तिवारी, छोटू , युवराज

यादव, विवेक सिंह, लिटिल दुबे , सौरभ आदि मौजूद रहे। एसडीएम सदर सीपी पाठक पुलिस लाइन पहुंचकर आंदोलनकारियों से वार्ता करते रहे।

Edited By: Dharmendra Mishra