लखनऊ, जागरण संवाददाता। बादशाह नगर मेट्रो स्टेशन पर तोड़फोड़ और मेट्रो कर्मियों से मारपीट करने वाले 32 वीं बटालियन पीएसी में तैनात उपनिरीक्षक एपी सिंह की तलाश महानगर पुलिस दूसरे दिन भी करती रही। मेट्रो स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरों से पुलिस को फुटेज मिली थी। फुटेज में साफ दिख रहा है कि गुरुवार दोपहर को कैसे सफाई कर्मचारी को एपी सिंह बेल्ट से पीट रहा है? यही नहीं काउंटर पर बैठे कर्मी से अभद्रता करने के साथ ही कुर्सी टिकट आपरेटिंग रूम में फेंक दी थी।

उप न‍िरीक्षक न‍िलंब‍ित

पुलिस के मुताबिक आरोपी को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। वहीं उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कारपोरेशन की मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पुष्पा बेलानी ने बताया कि आरोपी उप निरीक्षक को संबंधित विभाग द्वारा निलंबित कर दिया गया है। भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो, उसके लिए 32 वीं बटालियन पीएसी से आग्रह किया गया है। 

हवा में लहराई प‍िस्‍टल 

मेट्रो स्‍टेशन पर तैनात कर्मियों ने बताया कि आरोपी द्वारा दबंगाई दिखाते हुए पिस्टल तक निकाल ली गई थी, इससे आसपास खड़े सुरक्षा गार्ड जो समझाने के लिए आगे बढ़े थे, उन्हें भी मामला बिगड़ता देख पीछे हटना पड़ा था। इसके बाद आरोपी एपी सिंह बादशाह नगर स्टेशन से भाग गया था। मेट्रो के अफसरों ने बताया कि बुधवार को भी टिकट ऑपरेटर के साथ एक महिला के टिकट को लेकर विवाद हुआ था। यहां भी उपनिरीक्षक की भूमिका को लेकर सवाल खड़े हुए थे।

आरोप‍ित को तलाश रही पुल‍िस 

पिछले कई सालों से मेट्रो स्टेशनों पर 32वीं बटालियन पीएससी मेट्रो स्टेशनों की सुरक्षा में तैनात है। आज तक पीएएसी कर्मियों द्वारा कभी कोई ऐसी घटना इससे पहले नहीं की गई है। बुधवार को आनलाइन टिकट में देरी होने पर टिकट ऑपरेटर को बुरा भला कहने के साथ ही दरवाजे पर कुर्सी मारकर दरवाजे का लॉक तोड़ दिया था। इससे शीशा टूट गया था और कंप्यूटर भी क्षतिग्रस्त हुए थे। वहीं एसीपी महानगर जया शांडिल्य ने बताया क‍ि मामला दर्ज कर लिया गया था। फुटेज के आधार पर आरोपी की तलाश की जा रही है। जल्द ही आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होगा।

Edited By: Anurag Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट