अमेठी, जेएनएन। अमेठी की मनीषी बालिका इंटर कालेज गौरीगंज की कक्षा नौ की छात्रा रिया सिंह ने एक दिन के लिए थाना संभाला। कोतवाल बनकर उन्होंने लोगों की फरियाद सुनी और पुलिस कर्मियों को आदेश भी दिए। जिले में यह अनूठी पहल महिला सशक्तीकरण अभियान के तहत पुलिस अधीक्षक डॉ ख्याति गर्ग ने की। इस दौरान रिया के साथ मनीषी बालिका इंटर कालेज की अन्‍य छात्राओं ने भी जाना की वह अपनी सुरक्षा कैसे कर सकती हैं, कैसे पुलिस में अपनी शिकायत दर्ज करा सकती हैं, पुलिस कैसे काम करती है और थाने कैसे चलते हैं।

मनीषी बालिका इंटर कालेज की प्रधानाचार्या डॉ अर्चना पांडेय सुबह 11 बजे छात्राओं को लेकर गौरीगंज पहुंची। यहां पर पुलिस अधीक्षक डॉ ख्याति गर्ग व गौरीगंज प्रभारी निरीक्षक परशुराम ओझा की मौजूदगी में छात्रा रिया सिंह को गौरीगंज कोतवाली का चार्ज सौंपा गया। चार्ज लेते ही छात्रा ने सबसे पहले मुख्यमंत्री मंत्री संदर्भ शिकायत की पंजिका देखी। इसके बाद गौरीगंज शहर में जाम की समस्या को लेकर उपनिरीक्षकों व कांस्टेबल को निर्देशित करते हुए प्रमुख चौराहों पर यातायात व्यवस्था को मजबूत करने की बात कही।

थाने पर प्रभारी निरीक्षक परशुराम ओझा द्वारा थानेदार बनी छात्रा व साथ मे आई अन्य छात्राओं को पुलिस के कार्यों को बारे में बारीकी से बताया गया। वहीं भारतीय दंड संहिता की धाराओं से भी परिचित कराया गया। महिलाओं से जुड़े अपराध पर छात्राओं को जागरूक किया गया। दोपहर एक बजे गौरीगंज कोतवाली की एक दिन प्रभारी बनी छात्रा को थाने के रजिस्टर के साथ बुलाया गया है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इससे छात्राओं के बहुत जानकारी मिलेगी और वह मजबूत बनेंगी।

छात्रा ने चार्ज लेने के साथ एक पारिवारिक विवाद में कांस्टेबल को निर्देश देते हुए दोनों पक्षों को बैठाकर समझने की बात कही। वहीं चोरी की शिकायत पर जांच का आश्वासन दिया। कोतवाल बनी छात्रा ने आईजीआरएस पर आई शिकायतें के निस्तारण पर जोर दिया।

Posted By: Anurag Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप