झांसी, जेएनएन। प्रधानमंत्री की प्रस्तावित रैली की तैयारियों का जायजा लेने आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुंदेलखंड के सुनहरे भविष्य की लकीर खींच गए। कहा, बुंदेलखंड की प्यास बुझाने को नौ हजार करोड़ की परियोजना बनाई गई है। वहीं डिफेंस कॉरिडोर, बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे योजनाएं भी अगले पांच साल में यह पूरी होंगी। परियोजनाओं के पूरा होने पर बुंदेलखंंड में खुशहाली ही होगी। 

बड़ी योजनाओं का हो सकता शिलान्यास 

  • डिफेंस कॉरिडोर
  • कृषि विश्वविद्यालय
  • बुंदेलखंड के लिए पेयजल योजना
  • बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे

शिलान्यास करेंगे प्रधानमंत्री

बुंदेलखंड स्वर्गभोजला मंडी के नीलामी चबूतरे पर जनप्रतिनिधियों व पदाधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने पूर्व की सरकारों पर आरोप लगाया। कहा कि आजादी के बाद से ही बुंदेलखंड को उपेक्षित रखा गया है, जिससे यह विकास की दौड़ में पिछड़ गया। केंद्र और राज्य में भाजपा की सरकार आने के बाद यहां के विकासपरक योजनाओं पर अमल होना शुरू हो गया है। नौ हजार करोड़ रुपये की पेयजल परियोजना तैयार की गई है, इसका शिलान्यास प्रधानमंत्री करेंगे। राज्य सरकार ने बजट में तीन हजार करोड़ का प्राविधान किया गया है। इसके अलावा डिफेंस कॉरिडोर व बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे पर काम तेजी से चल रहा है। रेल कोच फैक्ट्री भी खुलने जा रही है। परियोजनाओं का आकार बड़ा होते ही यहां की तस्वीर बदल जाएगी। बड़ा औद्योगिक निवेश होने से यहां रोजगार के इतने अवसर मिलेंगे कि पलायन नहीं होगा। 

15 को बुंदेलखंड का भाग्य लिखेंगे मोदी

कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुंदेलखंड का भाग्य लिखेंगे। वह कई बड़ी परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण करेंगे। लगभग दो घंटे तक झांसी में रहे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री की प्रस्तावित रैली की समीक्षा की तथा कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। 

 

Posted By: Nawal Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस