गोंडा, जेएनएन। उत्‍तर प्रदेश के गोंडा में भारतीय स्टेट बैंक में कार्यरत फील्ड ऑफीसर का शव उसके की आवास में संदिग्‍ध परिस्थितियों में मिला। मृतक का शव बाथरूम में लगी राड के सहारे लटक रहा था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्‍टमॉर्टम के लिए भेजा है। उधर, मृतक की मां ने बेटे की हत्या करके शव को लटकने का आरोप लगाया है। 

ये है पूरा मामला 

मामला विकास कॉलोनी का है। यहां स्थित एक मकान में लखनऊ के अलीगंज निवासी अंकुर चौधरी किराए पर रह रहे थे। भारतीय स्टेट बैंक की शीशामऊ शाखा में तैनात फील्ड ऑफीसर के पद पर कार्यरत थे। बताया जा रहा है कि शुक्रवार रात अंकुर का शव बाथरूम में लगी राड के सहारे लटकता हुआ मिला। पीड़ित मां किरन का आरोप है कि उसके बेटे की हत्या करके शव को लटका दिया गया है। ससुर आरपी वर्मा का आरोप है कि बैंक अधिकारी उसे गबन के मामले में फंसाना चाह रहे हैं। इसी सिलसिले में शुक्रवार को बैंक के अधिकारी उसके घर लखनऊ गए थे। उधर, शीशामऊ शाखा पर तैनात प्रबंधक एमएन वर्मा का कहना है कि अंकुर चौधरी पिछले तीन दिनों से बैंक नहीं आ रहा था। इसी सिलसिले में वह जानकारी करने गए थे। उन्होंने कुछ खातों में गड़बड़ी की बात स्वीकार की है। लेकिन इसके आगे कुछ भी बताने से मना कर दिया है। 

क्‍या कहना है पुलिस का ?

नगर कोतवाल आलोक राव का कहना है कि प्रथम दृष्टया मामला खुदकुशी का लग रहा है। फिर भी पूरे मामले की जांच की जा रही है। अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र कुमार ने परिवारजनों से जानकारी ली जा रही है। साथ ही उन्हें कार्रवाई का भरोसा दिलाया है। शव का पोस्‍टमॉर्टम कराया जा रहा है। 

Posted By: Divyansh Rastogi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस