प्रयागराज [राज्य ब्यूरो]। SSC CHSL Tier 1 Exam 2022: कंबाइंड हायर सेकेंड्री लेवल (सीएचएसएल) टियर-1 की परीक्षा नकल विहीन कराने के लिए कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) की ओर से हर केंद्र पर जैमर लगाया जाएगा। इसके लिए एक एजेंसी को ठेका दिया गया है। हाल ही में यूपी एसआइ की आनलाइन परीक्षा में नकल के कई मामले सामने आने के बाद एसएससी की ओर से विशेष सतर्कता बरती जा रही है।

कर्मचारी चयन आयोग की सीएचएसएल परीक्षा 24 मई से शुरू होकर 10 जून तक चलेगी। यह परीक्षा यूपी और बिहार के लिए 86 केंद्रों पर कराई जाएगी। आनलाइन परीक्षा के लिए अलीगढ़, आरा, बरेली, मुरादाबाद में एक-एक, भागलपुर, झांसी, मेरठ, मुजफ्फरनगर और पूर्णिया में दो-दो, गोरखपुर में तीन, मुजफ्फरपुर में चार, आगरा में पांच, कानपुर में आठ, लखनऊ में दस, प्रयागराज और वाराणसी में 12-12 और पटना में 18 केंद्र बनाए गए हैं।

सबसे अधिक परीक्षार्थी पटना में 249019 और उसके बाद वाराणासी में 142228 और फिर प्रयागराज में 120579 है। इन शहरों पर एसएससी की विशेष निगरानी रहेगी। हर केंद्र पर जैमर लगाने की तैयारी पूरी हो गई है। परीक्षा से एक दिन से इसे लगा दिया जाएगा। प्रति केंद्र पर सौ से दो सौ परीक्षार्थी ही रहेंगे। इन पर सीसीटीवी से भी निगरानी रहेगी।

एसएससी के क्षेत्रीय निदेशक राहुल सचान ने बताया कि यह परीक्षा 24 मई से शुरू होकर 10 जून तक चलेगी। इतने दिनों तक हर केंद्र पर जैमर लगा रहेगा और परीक्षा के दौरान सक्रिय रहेगा। इस दौरान परीक्षार्थी के कंप्यूटर के अलावा कोई भी इंटरनेट डिवाइस नहीं चलेगी।

उन्होंने बताया कि परीक्षार्थियों को आधे घंटे पहले केंद्र पर पहुंचना होगा। हर केंद्र पर परीक्षार्थी का फोटो खींचा जाएगा। यह परीक्षा तीन चरणों में होगी और हर बार केंद्र पर परीक्षार्थी का फोटो खींचा जाएगा। इससे परीक्षार्थी की जगह कोई दूसरा नहीं बैठ सकता है। अंतिम चयन के समय हर परीक्षा से पहले लिए गए फोटो का मिलान किया जाएगा।

Edited By: Umesh Tiwari