लखनऊ (जेएनएन)। स्पाइसजेट एयरलाइंस अक्टूबर-नवंबर में पांच नए मार्गों कानपुर-मुंबई, कानपुर-कोलकाता, वाराणसी-बेंगलुरु, वाराणसी-कोलकाता और गोरखपुर-बेंगलुरु के लिए सीधी हवाई सेवा शुरू करने जा रहा है। इन सीधी उड़ानों के शुरू होने से यात्रियों का समय बचेगा। बुधवार को मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नए मार्गों पर सेवाएं शुरू करने के लिए स्पाइसजेट के अधिकारियों को उप्र नागर विमानन प्रोत्साहन नीति के तहत 'स्टेट इंसेंटिव एलिजिबिलिटी' प्रमाणपत्र दिया। इसके साथ ही योगी ने कंपनी से कहा कि कुछ और राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मार्गों से भी सेवाएं शुरू करे।

कब कहां से शुरू होगी सेवा

  • मुंबई से कानपुर, चार अक्टूबर
  • कोलकाता-कानपुर, एक नवंबर
  • गोरखपुर-बेंगलुरु और कानपुर-बेंगलुरु पांच नवंबर
  • बेंगलुरु-वाराणसी, सात नवंबर

पहले सिर्फ तीन उड़ानें थी अब छह

नागरिक उड्डयन मंत्री नंद गोपाल नंदी ने कहा कि प्रदेश में पहले सिर्फ गोरखपुर, लखनऊ और वाराणसी से व्यावसायिक उड़ानें थीं। अब इसमें आगरा, इलाहाबाद और कानपुर भी जुड़ गए हैं। शीघ्र ही मुरादाबाद, अलीगढ़, आजमगढ़, श्रावस्ती, चित्रकूट, झांसी और सोनभद्र से भी हवाई सेवा शुरू होंगी। मालूम हो कि स्पाइसजेट साल भर पहले तक सिर्फ तीन मार्गों पर सेवाएं उपलब्ध कराता था। उसने चार और नए मार्गों पर सेवाएं शुरू की। इसमें पांच और मार्ग जल्दी ही जुड़ जाएंगे। कंपनी कुछ अन्य मार्गों पर भी संभावनाएं तलाश रही है। इस दौरान ग्राम विकास मंत्री डॉ.महेंद्र सिंह, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एसपी गोयल, निदेशक नागरिक उड्डयन सूर्यपाल गंगवार, स्पाइसजेट के चीफ मार्केटिंग आफीसर देबाजो महर्षि और एसोसिएट वाइस प्रसीडेंट सीएस पलनी आदि मौजूद थे।

 

Posted By: Nawal Mishra