लखनऊ, जेएनएन। सोनभद्र नरसंहार को लेकर बसपा प्रमुख मायावती ने कांग्रेस और भाजपा दोनों को बराबर का जिम्मेदार ठहराया है। मायावती ने बीजेपी और कांग्रेस दोनों पर निशाना साधते हुए कहा कि दोनों ही पार्टियां घड़ियाली आंसू बहा रही हैं।

शुक्रवार को किए मायावती ने एक के बाद एक लगातार तीन ट्वीट किए। ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि 'जैसा कि सर्वविदित है कि देश में आए दिन आदिवासी समाज पर हो रहें अत्याचार के लिए केंद्र में रही कांग्रेस व अब बीजेपी की सरकार बराबर की जिम्मेदार है। कांग्रेस के राज में आदिवासियों को जंगलों से बेदखल किया गया, जिससे दुखी होकर कुछ लोग नक्सली तक बन गए।'

मायावती ने आगे लिखा कि 'अब यूपी में बीजेपी राज में सोनभद्र जिले में कोल आदिवासी समाज को जमीन से बेदखल करके उन्हें मौत के घाट उतार दिया गया है, लेकिन यहां खास ध्यान देने की बात यह है कि इन दोनों में से जो पार्टी सत्ता से बाहर रहती है, वह इनका शोषण होने पर अपने घड़ियाली आंसू बहाती है। जैसा कि कई दिन के बाद सोनभद्र में यह देखने के लिए मिल रहा है जबकि बीएसपी के लोग घटना वाले दिन से ही पीडि़तों को न्याय दिलाने हेतु प्रशासन पर लगातार दबाव बनाए हैं। अत: बीजेपी सरकार पीड़ितों को न्याय दे, यह बीएसपी की फिर से मांग है।'

Posted By: Umesh Tiwari