अमेठी, जेएनएन। केंद्रीय मंत्री व सांसद स्मृति ईरानी ने शनिवार को वीडियो कॉन्फेंसिंग के जरिए ई-स्वरोजगार संगम की शुरूआत की। योजना के तहत जिले को आत्मनिर्भर अमेठी बनाने के लिए 21 हजार लाभार्थियों को 150 करोड़ रुपये के ऋण का वितरण होगा। पहले दिन 6,500 लाभार्थियों को 35.87 करोड़ का ऋण वितरित किया गया। शुभारंभ के मौके पर एनआइसी में डीएम अरुण कुमार व सीडीओ प्रभुनाथ ने लाभार्थियों को प्रतीकात्मक चेक सौंपे।कार्यक्रम का आयोजन अग्रणी बैंक, बैंक आफ बड़ौदा द्वारा किया गया था। 

स्मृति ने वीडियो कॉन्फेंसिंग के जरिए लाभार्थियों व बैंक के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना महामारी ने मानवता और समाज के लिए अभूतपूर्व संकट खड़ा किया है। पिछले कुछ महीनों में जनता की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए आर्थिक गतिविधियां न्यूनतम रही। ऐसे में अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए भारत सरकार ने विभिन्न कदम उठाए हैं। 

 

जिला अग्रणी बैंक, बैंक आफ बड़ौदा सहित सभी बैंक नए उद्यमियों और किसानों की नकदी की कमी ऋण के माध्यम से पूरा करें। ई-स्वरोजगार संगम अमेठी का मुख्य ध्येय वोकल फॉर लोकल के साथ देश को आत्मनिर्भर बनाना है। कार्यक्रम में मुख्य महा प्रबंधक डॉ. रामजश यादव, एलडीएम अमेठी विमल कुमार गुप्ता, एलडीएम रायबरेली विनय शर्मा व क्षेत्रीय व्यवसाय प्रमुख रवि प्रकाश मिश्र सहित बैंकों के जिला समन्वयक मौजूद रहे। 

Posted By: Divyansh Rastogi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस