लखनऊ, जेएनएन। पारा के भपटामऊ नाजिमनगर में बीती देर रात युवक की धारदार हथियार से सिर पर ताबड़तोड़ कई वार कर निर्मम हत्या कर दी गई। भपटामऊ नाजिमनगर में अमीनाबाद निवासी प्रापर्टी कारोबारी राजू के प्लाट में बने टीनशेड के कमरे में हरदोई बेनीगंज बीरपुर निवासी 30 वर्षीय अनूप कुमार वर्मा पिछले दो साल से रहता था और पूर्वीदीन खेड़ा जेबी गार्डेन निवासी रोहित शर्मा के साथ शटरिंग का काम करता था। गुुुुुुुरुवार रात वह  टीनशेड के नीचे पड़े तखत पर सो रहा था। बीती देर रात अज्ञात लोगों ने अनूप के सिर पर धारदार हथियार से कई वार कर निर्मम हत्या कर दी।

सुबह पड़ोस में रहने वाले बाबू की बेटी फातिमा घर के बाहर खेलने के लिए आई। तो उसने देखा कि टीनशेड के नीचे अनूप खून से लथपथ पड़ा हुआ था। अनूप को खून से लथपथ देख फातिमा सहम गई और भागकर मामले की जानकारी अपने पिता बाबू को दी। आनन फानन में बाबू मौके पर पहुुुुंंचा। तो अनूप के शव को खून से लथपथ देख घटना की जानकारी पारा पुलिस को दी। हत्या की जानकारी होनें पर मौके पर डीसीपी रईस अख्तर एडीसीपी सुरेश चंद्र रावत, एसीपी काकोरी सैय्यद मो कासिम आब्दी व डाग स्क्वायड व फिंगर एक्सपर्ट टीम पहुुंची और छानबीन में जुट गई।

डागस्क्वायड मौके पर तो पहुुंचा, लेकिन मुआयना किए बगैर ही लौट गया। वहीं फिंगर एक्सपर्ट टीम ने मौके से कई नमूने भी लिए। मृतक के परिवार में पिता राजकुमार, मां जयदेवी, भाई मेवालाल, दिनेश, श्रीकेशन व पच्चा है। जिसमें भाई दिनेश अपनी पत्नी सरोजनी के साथ भपटामऊ इण्डिया हास्पिटल के पास रहता है। वहीं घटना को लेकर भाई दिनेश ने अज्ञात लोगों के खिलाफ पारा थाना में तहरीर दी है।

बेरहमी से की गई अनूप की हत्या

हत्यारों ने अनूप के सिर पर धारदार हथियार से ताबड़तोड कई वार कर हत्या की। जिससे अनूप के सिर का भेजा जमीन व तखत पर निकला पड़ा था और आंंख व मत्थे पर गहरा जख्म था। तो वहीं खून की छीटों से दीवार सनी हुई थी और खून टीन शेड के बाहर तक फैला हुआ था।

कहीं आशनाई में तो नहीं हुई अनूप की हत्या

टीनशेड के नीचे अनूप अकेला रहता था, लेकिन कमरे में अनूप के कपड़ो के साथ साथ कुर्सी पर महिला के कपड़े पड़े हुए थे।  जहां एक ओर अनूप का खून से लथपथ शव पड़ा था वहीं दूसरी ओर बीच तखत रोटी पड़ी हुई थी। घटना की जानकारी होने पर पारा पुलिस छानबीन कर रही थी। छानबीन के दौरान पुलिस को अनूप का मोबाइल फोन तो मिला, लेकिन मोबाईल से सिमकार्ड गायब था।

प्लाट में रहता था अराजक तत्वों का जमावड़ा

अमीनाबाद निवासी प्रापर्टी कारोबारी राजू ने नोटबंदी के बाद से प्रापर्टी का कार्यालय बंद कर दिया था। उसके बाद से आस पास के अराजक तत्व कार्यालय के बाहर लगी झाड़ियों व पेड़ के नीचे झुण्ड बनाकर जुंआ खेलने व शराब पीने का अड्डा बना रखा था। आस पास के लोगों के विरोध करने पर अराजक तत्व देख लेने की धमकी भी दे देते थे। वहीं पड़ोस में हाल ही में एक घर के बाहर कुछ अराजक तत्व जमावड़ा लगाकर शराब पी रहे थे। विरोध करने पर शराब‍ियों ने घर पर पथराव भी किया था। 

पुलिस को नहीं लगा अहम सुराग

पुलिस के हाथ कोई भी अहम सुराग नहीं लग सका है। आस पास के लोगों व अनूप के साथ शटरिंग का काम करने वालों से पुल‍िस जानकारी हासिल करने में जुटी है। नाजिमनगर में हत्या की जानकारी फैलते ही इलाके में सनसनी मच गई। वहीं घटनास्थल पर लोगों की भीड़ जमा रही।

पड़ोसी दुकानदार के पास जमा करता था पैसा

अनूप पड़ोस में रहने वाले परचून दुकानदार बेचालाल की दुकान पर पैसा जमा करता था और राशन भी उसी दुकान से खरीदता था। 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस