अयोध्या, संवाद सूत्र। सड़क हादसे में राष्ट्रीय स्वयं संघ के वरिष्ठ नेता बाल गंगाधर त्रिपाठी की मौत हो गई। दुर्घटना हाईवे से महोबरा बाजार आने वाले रास्ते पर हुई। अंबेडकरनगर जिले के अकबरपुर तहसील चौराहा के मूल निवासी बाल गंगाधर त्रिपाठी लखनऊ के जानकीपुरम में रहते थे।

चौकी नयाघाट प्रभारी धर्मेंद्र मिश्र ने बताया कि मंगलवार की शाम त्रिपाठी बाइक से हाईवे से महोबरा बाजार की ओर मुड़ रहे थे तभी उन्हें अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी। स्थानीय लोगों से हादसे की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक उनकी मृत्यु हो चुकी थी। संदेह के आधार पर एक ट्रक को रौनाही के पास रोक कर जांच पड़ताल की जा रही है। अभी पता नहीं चल सका है कि वह बाइक से कहां जा रहे थे। वह संघ के अनुषांगिक संगठन ग्राहक पंचायत के अवध प्रांत के अध्यक्ष थे। हाईकोर्ट में अपर शासकीय अधिवक्ता रहे। पूर्व में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के संभाग संगठन मंत्री रह चुके हैं। मध्यप्रदेश में भी संघ की योजना से कार्य कर चुके हैं। भाजपा नेता रोहित पांडेय ने बताया कि 63 वर्षीय बाल गंगाधर त्रिपाठी संघ के स्थापित नेताओं में थे। वह उच्च न्यायालय की लखनऊ खंड में अपर शासकीय अधिवक्ता थे। उनके निधन पर महापौर रिषिकेश उपाध्याय, गोसाईगंज विधायक इंद्र प्रताप तिवारी खब्बू, डॉ.विक्रमा प्रसाद पांडेय, अंबेडकरनगर के भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ. मिथिलेश त्रिपाठी, पूर्व अध्यक्ष केपी वर्मा, पूर्व जिलाध्यक्ष अवधेश पांडेय बादल, भाजपा नेता शक्ति सिंह, महानगर महामंत्री परमानंद मिश्र सहित कई नेताओं ने गहरा शोक्त व्यक्त किया।

आंदोलन को राजनीतिज्ञों ने कर लिया है हाईजैक: प्रदेश के समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री सारंगापुर गांव में हाईकोर्ट अधिवक्ता सुशील कश्यप के यहां आयोजित मांगलिक कार्यक्रम में शामिल हुए। इस दौरान वे जागरण से भी मुखातिब हुए। उन्होंने कहाकि भाजपा सरकार ने किसानों के हित में अनेक योजनाएं संचालित की हैं। उन्होंने कहाकि किसान आंदोलन को राजनीतिज्ञों ने हाईजैक कर लिया है। असल किसान खेतों में काम कर रहे हैं और किसानों की आड़ में राजनीतिक दलों के नेता जनता को गुमराह करने में लगे हैं। इस अवसर पर भाजपा जिला उपाध्यक्ष कृष्णकुमार पांडेय खुन्नू, गौतम पांडेय, राजेश गोस्वामी, हरिशंकर गोस्वामी, गुड्डू सिंह आदि मौजूद रहे।

Edited By: Rafiya Naz