लखनऊ, जेएनएन। Lucknow Jugal Kishore Jewellers Theft: राजधानी के अमीनाबाद में जुगल किशोर ज्वैलर्स के यहां हुई चोरी के मामले में पुलिस को  ने तीन युवकों को गिरफ्तार कर ल‍िया है। पकड़े गए युवकों से पूछताछ में इस वारदात के पीछे पुराने लखनऊ के ही एक सर्राफ की भूमिका उजागर हुई है। आरोपितों ने पूछताछ में सर्राफ का नाम बताया है जो बालागंज का रहने वाला है। सर्राफ ने आरोपितों से जुगल किशोर ज्वैलर्स के यहां चोरी करने के लिए कहा था। सर्राफ ने आरोपितों का सोना बिकवाने की जिम्मेदारी भी ली थी। बताया जा रहा है कि आरोपित घटना के बाद पूजा पाठ के बहाने राजधानी से बाहर चला गया था। पुलिस की टीम सर्राफ की तलाश में दबिश दे रही है। पुल‍िस ने युवकोंं के पास से 10 किलो 159 ग्राम सोना, 70 लाख 62 हजार 620 रुपये, 25 लाख का हीरा, एक पिस्टल, 25 लाख की अंगुठियां, एक स्कूटी व अन्य सामान बरामद किया है। आरोपित इस चोरी को अंजाम देने के ल‍िए लंबे समय से रेकी कर रहे थे। 

योजना के तहत ऐसे की थी चोरी

शेरा और शोएब ने बताया कि वह कुछ माह पहले वहां रेकी करने गए थे, लेकिन तब पड़ोस की बिल्डिंग में किराये पर कुछ लोग रह रहे थे। तीन माह पहले किरायेदार ऋषभ ने बिल्डिंग खाली कर दी थी। एक सप्ताह पहले दोनों दोबारा रेकी करने गए थे। तब उन्हें पता चला कि बिल्डिंग में ताला लगा है और कोई भी वहां नहीं रहता। बुधवार रात करीब 10:27 बजे दोनों ने यह पुष्टि करने के लिए कि कोई गार्ड तो बिल्डिंग के बाहर तैनात नहीं है, गेट का ताला तोड़ दिया था। इसके बाद स्कूटी से वापस चले गए थे। एक घंटे बाद दोनों ने गैस कटर, सिलिंडर व अन्य सामान लेकर आए और उसे छिपाकर लौट गए। दोनों रात करीब 12:30 बजे लौटे और बिल्डिंग में दाखिल हो गए। इस दौरान उन्होंने स्कूटी कैसरबाग स्थित पार्किंग में खड़ी कर दी थी। करीब 23 घंटे तक भीतर रहकर वारदात को अंजाम दिया था।

बिरयानी और ड्राइफ्रूट लेकर गए थे दोनों

बुधवार देर रात दोनों बिल्डिंग की छत से जुगल किशोर फर्म की छत पर पहुंचे और पूरी रात बैठे रहे। यही नहीं गुरुवार को दिन में भी दोनों ने इंतजार किया। शोएब ने बताया कि वह ड्राइफ्रूट लेकर गया था, जिसे खाने के बाद वह पानी पीकर समय काटता रहा वहीं, शेरा बिरयानी पैक कराकर लाया था। गुरुवार शाम को दोनों ने लोहे के दरवाजे काटने शुरू किए थे। तीन दरवाजे काटने के बाद दोनों प्रथम तल पर पहुंचे थे, जहां सेफ का पिछला हिस्सा काटकर दोनों ने करोड़ों का माल बोरे में भरा और गुरुवार रात करीब 11:40 पर बाहर निकल आए। पुलिस आयुक्त ने घटना का राजफाश करने वाली टीम को 50 हजार रुपये पुरस्कार देने की घोषणा की है।  

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021