लखनऊ, जेएनएन। केजीएमयू में बेटियों का परचम लहरा। एमबीबीएस के सबसे प्रतिष्ठित मेडल पर छात्राओं ने कब्जा जमाया। सना को हीवेट समेत 18 अवॉर्ड मिले। वहीं आकर्षि को चांसलर यूनिवर्सिटी मेडल समेत 25 अवॉर्ड की घोषणा की गई।

केजीएमयू में 25 को दीक्षा समारोह होगा। 15वें दीक्षा समारोह में कुल 44 मेधा को मेडल प्रदान किए जाएंगे। यह यूजी, पीजी व सुपर स्पेशियलिटी कोर्स के टॉपर होंगे। वहीं शेष को संस्थान के स्थापना दिवस पर मेडल और डिग्री प्रदान की जाएंगी। प्रति कुलपति प्रो. मधुमति गोयल, डीन प्रो. विनीता दास ने बुधवार को मेडल लिस्ट जारी की। इसमें बीडीएस के परीक्षा परिणाम आने के बाद मेडल जारी किए जाएंगे। 44 मेधा में 18 छात्राएं हैं। वहीं मेडल की संख्या सबसे अधिक छात्राओं की झोली में गई है। कुल 1200 डिग्री वर्ष 2019 में बटेंगी। 

सना को 15 मेडल, तीन अवॉर्ड

एमबीबीएस की छात्रा सना मोहसिन को सबसे प्रतिष्ठित हीवेट मेडल मिलेगा। यह एमबीबीएस अंतिम वर्ष के सभी विषयों में सबसे अधिक अंक प्राप्त करने वाले को मिलता है। इसके अलावा सना को कुल 10 गोल्ड, चार सिल्वर, एक ब्राउंज व तीन कैश प्राइस पुरस्कार मिलेंगे।

आकर्षि को 22 मेडल, पांच अवॉर्ड 

आकर्षि गुप्ता को केजीएमयू चांसलर व यूनिवर्सिटी ऑर्नर मेडल मिलेगा। चांसलर मेडल एमबीबीएस में सबसे अधिक अंक पाने वाले को दिया जाता है। वहीं सभी वर्षों की परीक्षा पहले प्रयास में सर्वाधिक अंकों के साथ पास करने पर यूनिवर्सिटी ऑर्नर मेडल प्रदान किया जाएगा। आकर्षि को 16 गोल्ड, चार सिल्वर, दो बुक प्राइज व तीन कैश प्राइज मिलेंगे। 

राष्ट्रपति का इन्कार, राज्यपाल मुख्य अतिथि

दीक्षा समारोह सांइटिफिक कन्वेंशन सेंटर में होगा। डॉ. मधुमति गोयल ने बताया कि राष्ट्रपति व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने आमंत्रण पर सहमति प्रदान नहीं की। अब समारोह में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल मुख्य अतिथि होंगी। चिकित्सा शिक्षा विभाग के मंत्री सुरेश खन्ना विशिष्ठ अतिथि होंगे। आइसीएमआर के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव विशेष अतिथि होंगे। 

इन मेधावियों को नए मेडल 

केजीएमयू में तीन नए मेडल प्रदान किए जाएंगे। पहली बार डॉ. विनीता दास गोल्ड मेडल प्रदान किया जाएगा। यह पीजी के टॉपर को मिलेगा। इस पर पैथोलॉजी विभाग की डॉ. शालिनी ने कब्जा जमाया। वहीं पहली बार साइकेट्रिक एलुमिनाई गोल्ड मेडल पीजी छात्र को मिलेगा। नेत्र रोग विभाग में पीजी के मेधावी डॉ. स्वाति प्रियदर्शी को डॉ. गिरीश चंद्रा फाउंडेशन गोल्ड मेडल प्रदान किया जाएगा।

पहली बार शामिल होंगे स्कूली बच्चे

दीक्षा समारोह में पहली बार रिटायर्ड डॉक्टर को लाइफ टाइम एचीवमेंट अवॉर्ड मिलेगा। गठिया रोग विभाग के पूर्व अध्यक्ष डॉ. एके दास को लाइफ टाइम एचीवमेंट अवॉर्ड मिलेगा। साथ ही डॉ. केबी भाटिया गोल्ड मेडल मिलेगा। वहीं प्राइमरी स्कूल के 50 बच्चे शामिल होंगे। इन्हें अगली पंक्ति में बैठाने की व्यवस्था होगी। इसका मकसद बच्चों को पढ़ाई के लिए प्रेरित करना है। यह निर्देश राजभवन ने जारी किया है।

 

Posted By: Anurag Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप