लखनऊ, राज्य ब्यूरो। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा के कारण लोकतंत्र कमजोर हुआ है। संवैधानिक संस्थाओं पर हमला हो रहा है। भाजपा लोकतांत्रिक प्रणाली के विरुद्ध साजिश रच रही है। भाजपा का हमला 2022 के चुनाव में बूथ पर होगा, जिससे सतर्क रहना होगा। अखिलेश ने आरोप लगाया कि भाजपा ने बिना कोई जनहित का कार्य किए सरकारी संसाधनों का केवल दुरुपयोग किया है। गन्ने का बकाया, बिजली बिल बढ़ोतरी, बुनकरों की समस्या, बेरोजगारी की समस्या, महिला उत्पीडऩ और अपराध के आंकड़ों में आज उत्तर प्रदेश अन्य राज्यों से आगे है। समाज का प्रत्येक वर्ग परेशान और दुखी है। सरकारी लूट से जनता त्राहि-त्राहि कर रही है।

अखिलेश ने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी ने अर्थव्यवस्था को कमजोर कर दिया है। भाजपा ने प्रदेश के विकास को पीछे कर दिया है। 2022 में जनता समाजवादी सरकार बनाने के लिए तैयार है। समाजवादी पार्टी हमेशा गरीबों के पक्ष में खड़ी रही है। लैपटाप, कन्या विद्या धन और समाजवादी पेंशन जैसी अनेक कल्याणकारी नीतियां बिना किसी भेदभाव के लागू हुईं। प्रदेश को खुशहाल और समृद्ध बनाना ही समाजवादी पार्टी का लक्ष्य है।

जिलों में समीक्षा कल से : सपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष किरनमय नंदा 24 सितंबर से चार अक्टूबर तक रायबरेली, सुलतानपुर, प्रतापगढ़, प्रयागराज, मीरजापुर और भदोही में पार्टी संगठन की समीक्षा करेंगे। नंदा प्रत्येक जिले में दो दिन संगठन की समीक्षा करेंगे। वह पहले दिन विधानसभावार अध्यक्ष, महासचिव, उपाध्यक्ष, ब्लाक अध्यक्ष, महासचिव व सेक्टर प्रभारियों के साथ बूथों की स्थिति की समीक्षा करेंगे। दूसरे दिन जिला कार्यकारिणी, फ्रंटल संगठन के जिलाध्यक्ष एवं महासचिव, सांसद, पूर्व सांसद, विधायक, पूर्व विधायक, टिकट मांगने वाले आवेदक, जिला पंचायत अध्यक्ष, ब्लाक प्रमुख, जिला पंचायत सदस्य, राष्ट्रीय एवं प्रदेश कार्यकारिणी के पदाधिकारियों एवं प्रमुख नेताओं से संगठन पर चर्चा करेंगे।

Edited By: Anurag Gupta