लखनऊ, जेएनएन। राष्ट्रीय लोकदल लोकसभा चुनाव के मद्देनजर दो मोर्चों पर काम कर रहा है। एक तरफ युवा टीम आम जन समस्याओं को उठाकर सरकार की पोल खोल रही है। वहीं दूसरी तरफ अग्रणी टीम किसानों और जवानों को चुनाव में जीत हासिल करने का मंत्र दे रही है। इसी क्रम में प्रदेश की जर्जर सड़कों के खिलाफ जारी जीवन सुरक्षा अभियान का दूसरे चरण शनिवार से शुरू होगा। युवा रालोद कार्यकर्ता किसान पुत्र बाइक रैली निकाल कर सरकार की जनविरोधी नीतियों को उजागर करेंगे। इसकी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। उधर रालोद मुखिया अजित सिंह ने भाजपा के प्रचार तंत्र से लडऩे के लिए किसानों को भाईचारा का मंत्र दिया और कहा कि किसान को उत्पीडऩ से बचना है तो चौधरी चरणसिंह की सलाह पर अमल कर रालोद को मजबूत करना और मुस्लिम-हिंदू भाईचारा कायम रखना है। 

अजित ने भाजपा की योजनाओं पर तंज कसे

अजित सिंह ने मथुरा कोसीकलां में किसानों के साथ जनसंवाद में न केवल भाजपा की योजनाओं पर तंज कसे, बल्कि 2014 में मोदी के नाम पर अतिउत्साहित युवाओं को आईना दिखाते हुए कहा कि उन्हें न तो रोजगार मिला और न ही काम की गारंटी रही। नोटबंदी ने उद्योग धंधों पर चोट की तो फसल बीमा योजना के नाम पर किसानों को ठगा गया। अगड़ों को आरक्षण के मुद्दे पर अजित ने कहा कि जो 70 हजार रुपये मासिक कमा रहा है, उसे भी गरीब बना दिया। उन्होंने बेसहारा जानवरों की समस्या पर भी तंज कसा। महागठबंधन की सरकार बनती है तो पूरे देश के किसानों का कर्जा माफ होगा। कैराना से रालोद सांसद तबस्सुम बेगम ने बेसहारा जानवरों से किसानों की हो रही मुश्किलों को उठाया।

किसान पुत्र बाइक रैली में सड़कों की समस्या

राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयंत चौधरी 12 जनवरी को बाइक रैली हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। रैली में मध्य क्षेत्र के विभिन्न जिलों के कार्यकर्ता शामिल होंगे। लखनऊ में बाईक रैली की तैयारी बैठक में रालोद महासचिव शिवकरण सिंह ने कहा कि करीब दो वर्ष से योगी सरकार लगातार गड्ढामुक्त सड़कों का नारा दे रही है लेकिन, सच्चाई यह है कि अधिकतर सड़क गड्ढों में तब्दील हो चुकी है। युवा रालोद प्रदेश अध्यक्ष अंबुज पटेल ने बताया कि बाइक रैली से पूर्व सेल्फी विद गड्ढा अभियान चलाया गया था, जिसे जबरदस्त सफलता मिली थी। राष्ट्रीय महासचिव ऐष्वर्यराज सिंह का कहना है कि रैली का उद्देश्य युवाओं को जातिवादी चक्रव्यूह से बाहर निकाला भी है। इसलिए अपने वाहनों पर जातिसूचक शब्द न लिखने का आह्वïन किया है। छात्र रालोद के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव बालियान ने बताया कि युवाओं से अपने वाहनों पर किसान-पुत्र लिखने का आग्रह भी किया है। राष्ट्रीय प्रवक्ता अनिल दुबे ने बताया कि रैली कैसरबाग से चलकर जीपीओ होते हुए राष्ट्रीय लोकदल मुख्यालय पर समाप्त होगी। 

 

Posted By: Nawal Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस