लखनऊ, राज्य ब्यूरो। NEET PG Counselling 2022 यूपी नीट पीजी-2022 की काउंसिलिंग में अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) व आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) के अभ्यर्थियों को बड़ी राहत मिल गई है। ओबीसी व ईडब्ल्यूएस के तमाम ऐसे अभ्यर्थी थे, जिनके पास अप्रैल 2022 के बाद का प्रमाण पत्र नहीं था।

ओबीसी व ईडब्ल्यूएस का प्रमाण पत्र न होने के कारण वह पीजी काउंसलिंग में प्रतिभाग करने से वंचित हो रहे थे। अब चिकित्सा शिक्षा विभाग की ओर से निर्देश जारी किए गए हैं कि ऐसे अभ्यर्थी आनलाइन पंजीकरण करते समय सिर्फ प्रमाण पत्र के लिए आवेदन की तारीख भरकर भी काउंसलिंग में शामिल हो सकते हैं।

महानिदेशक, चिकित्सा शिक्षा श्रुति सिंह की ओर से यह आदेश जारी कर दिए गए हैं। अब वह बुधवार को आसानी से अपना पंजीकरण करा सकेंगे व पंजीकरण शुल्क जमा कर सकेंगे। पंजीकरण की प्रक्रिया बीते सोमवार को शुरू होने के बाद यह समस्या सामने आई कि तमाम ओबीसी व ईडब्ल्यूएस के अभ्यर्थियों के पास अप्रैल 2022 के बाद का प्रमाण पत्र नहीं है।

काउंसिलिंग के लिए अभ्यर्थी 29 सितंबर तक सीट आरक्षित करने के लिए सिक्योरिटी मनी जमा कर सकेंगे। इसी दिन संभावित मेरिट सूची जारी की जाएगी और दो अक्टूबर तक अभ्यर्थी मनपसंद सीट का विकल्प भर सकेंगे। चार अक्टूबर को नीट-पीजी 2022 की मेरिट व आनलाइन विकल्प के आधार पर मेरिट सूची जारी की जाएगी। पांच अक्टूबर से आठ अक्टूबर तक आनलाइन आवंटन पत्र डाउनलोड कर कालेज में दाखिला ले सकेंगे।

Edited By: Prabhapunj Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट