लखनऊ, जेएनएन। एक बार फिर विजय एस. ज्वॉय ने वो कर दिखाया, जिसका दर्शकों को रेसकोर्स के मैदान में इंतजार था। रेसकोर्स में घुड़दौड़ शुरू होने से पहले जहां ‘विजय विन, विजय विन’ के नारे लग रहे थे। वहीं विजय एस ज्वॉय ने भी दर्शकों की उम्मीदों पर खरा उतरते हुए लखनऊ रेसफंड कप पर कब्जा कर लिया। इससे पहले वर्ष 2017 और 2018 की रेस में भी विजय एस. ज्वॉय ने अपना जलवा बिखेरा था। पहले की तरह जॉकी मोनू व विजय की जोड़ी चर्चा का विषय रही। वहीं इडियन थोरो ब्रिड में खुला तारा प्रथम स्थान पर रहे। 

रेसकोर्स में रविवार को आयोजित एक हजार मीटर की थारो ब्रिड रेस में विजय एस. ज्वॉय पहले स्थान पर रहा और दूसरे स्थान पर ड्रीम डिल ने बाजी मारी। थारो ब्रिड रेस में विजय एस ज्वॉय के मालिक अमर हबीबुल्ला को दस हजार और ड्रीम डील के मालिक अमर हबीबुल्ला और सुधीर हलवासिया को संयुक्त रूप से सात हजार और तीसरे स्थान पर रहे क्लाउड डांसर के मालिक रजनीश चोपड़ा को चार हजार की राशि देकर मध्य यूपी सब एरिया के जनरल आफिसर कमांडिंग मेजर जनरल प्रवेश पुरी ने देकर सम्मानित किया जबकि ट्राफी जॉकी को दी। थारो ब्रीड रेस में विजय ने ड्रीम डील को अपने आसपास फटकने तक नहीं दिया। करीब सौ मीटर की दूरी शुरू से विजय ने बना रखी थी।

खुला तारा ने बिखेरे जलवे

800 मीटर की इंडियन ब्रीड रेस में पीले रंग की खुला तारा ने अपने जलवे बिखेरते हुए नाइट क्वीन को अपने आसपास फटकने नहीं दिया। नाइट क्वीन को दूसरे स्थान और शिवराज को तीसरे स्थान पर संतोष करना पड़ा। खुला तारा के मालिक नफीस को प्रथम विजेता रहने पर पांच हजार, नाइट को तीन हजार और शिवराज को दो हजार नगद पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। 

डॉगीज की अदाओं पर हुए फिदा

यू तो लखनऊ रेसफंड कप में हर किसी पर हॉर्स रेस की खुमारी थी, लेकिन जैसे ही दर्शकों के समाने अलग-अलग ब्रीड के डॉगी आए तो सबने उनका तालियों से स्वागत किया। डॉगीज ने ओनर्स के इशारे पर करतब दिखाए। डॉगीज ने उछलने-कूदने से लेकर अपनी चाल से सभी का मन मोहा। किसी ने इशारे पर अपना करतब दिखवाया तो किसी ने आग के गोले से निकलकर दमखम दिखाया।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस