लखनऊ, जेएनएन। अयोध्या को लेकर आ रहे फैसले को लेकर कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए रेलवे प्रशास ने भी अलर्ट घोषित कर दिया है। साथ ही आरपीएफ जवानों के अवकाश निरस्त कर दिए हैं। वहीं, शनिवार को रोडवेज बसें अयोध्या में प्रवेश नहीं कर पाएंगी। बाईपास या फिर इन्हें वैकल्पिक मार्ग से अलग-अलग रूटों पर भेजा जाएगा। निगम प्रशासन से बसों को लेकर तैयार रहने को कहा गया है।

 

रेलवे ने किया अलर्ट, स्टेशनों की सुरक्षा बढ़ी

रिजर्व लाइन में तैनात आरपीएफ जवानों को सुरक्षा में लगाया जाएगा, जबकि रेलवे विशेष सुरक्षा बल (आरपीएसएफ) की दो कंपनियों की तैनाती सुरक्षा में कर दी गई है। रेलवे ने सुरक्षा व्यवस्था को चाकचौबंद करने के लिए कंट्रोल रूम बनाया है। साथ ही पुलिस मुख्यालय के कंट्रोल रूम से भी रेलवे कंट्रोल रूम को जोड़ दिया गया है। चारबाग स्टेशन की निगरानी के लिए आरपीएफ कंट्रोल रूम के साथ डीआरएम मुख्यालय में भी इंतजाम किया गया है। हर संदिग्ध लोगों की निगरानी की जा रही है। अधिक भीड़ वाले स्थानों पर आरपीएफ के जवानों को सादे कपड़ों में तैनात किया जाएगा, जबकि जीआरपी भी स्टेशन और परिसर के आसपास की सुरक्षा संभालेगी। लखनऊ से वाराणसी, अयोध्या की ओर जाने वाली ट्रेनों की विशेष जांच की जा रही है। डॉग स्क्वायड भी संदिग्ध वस्तुओं की जांच के लिए तैनात किया गया है। लखनऊ जंक्शन पर कैब-वे से आने वाले लोगों की जांच की जा रही है। 

अयोध्या में रोडवेज बसों का प्रवेश बंद

वहीं, शनिवार को रोडवेज बसें अयोध्या में प्रवेश नहीं कर पाएंगी। बाईपास या फिर इन्हें वैकल्पिक मार्ग से अलग-अलग रूटों पर भेजा जाएगा। निगम प्रशासन से बसों को लेकर तैयार रहने को कहा गया है। अधिकारियों के अलावा चालक परिचालक को अलर्ट पर रहने का फरमान जारी हुआ। क्षेत्रीय प्रबंधक पल्लव बोस ने बताया कि जो तैयारियां बताई गई हैं उनके हिसाब से परिवहन निगम का लखनऊ रीजन तैयार है। सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक डीके गर्ग ने बताया कि अलर्ट मोड पर सभी को तैयार रहने को कहा गया है। विशेष व्यवस्थाएं कर ली गई हैं। अयोध्या में किसी भी रोडवेज बस का प्रवेश नहीं होगा। यात्रियों को किसी भी तरह की दिक्कतें न होने पाएं, इसे देखते हुए सुलतानपुर आदि आसपास के जिलों से बसों को बाई पास होकर गुजारा जाएगा। 

 

अयोध्या के लिए 250 बसें तत्काल तैयार रहने के निर्देश

जिला प्रशासन के निर्देश पर परिवहन निगम ने अपनी 250 बसों को रूट से हटाकर अलग खड़ा कर दिया है। साथ ही सप्रू मार्ग स्थित कार्यालय में एक कंट्रोल रूम को एक्टिव करने के निर्देश दिए गए हैं। क्षेत्रीय प्रबंधक पल्लव बोस ने बताया कि गाइड लाइन के तहत बसों की व्यवस्था कर ली गई है। जरूरत पडऩे पर उसे तत्काल भेज दिया जाएगा। अधिकारियों को दिशा-निर्देश अलर्ट के लिए दे दिए गए हैं। 

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस