लखनऊ, जेएनएन। एशिया के एकमात्र एंटी क्लॉक टै्रक पर रविवार से घोड़ों की रेस की शुरुआत हो जाएगी। पिछले सीजन की एक भी औपचारिक रेस न होने की कसर इस बार गति के बादशाह निकालेंगे। लखनऊ रेसकोर्स क्लब के 1600 मीटर टै्रक पर जब यह घोड़े दौड़ेंगे तो उनके ऊपर अपनी मौजूदा रेटिंग को बनाए रखने का दबाव भी होगा। रविवार को लखनऊ रेसफंड कप की शुरुआत थारो और इंडियन ब्रीड के घोड़ों की दौड़ से होगी। इंडियन ब्रीड में पहली बार क्वीन भी अपना जलवा बिखेरेगी।  

दो बार आर्मी कमांडर कप जीतने वाला सुपर डुपर की रेटिंग 127 हो गई है। हैदराबाद से आए इस नौ साल के घोड़े ने चार साल में कई रेस जीती हैं। हालांकि 2017-18 के सीजन की रेस में  विजय एस ज्वॉय के शामिल होने के बाद सुपर डुपर अपने फॉर्म को हासिल नहीं कर पा रहा है। वहीं छह साल के विजय एस ज्वॉय की मौजूदा रेटिंग 113 है, लेकिन 2017 में लखनऊ आए इस घोड़े ने जीत की हैट्रिक लगायी। अपने फॉर्म को बरकरार रखने का दबाव सबसे अधिक विजय एस ज्वॉय पर होगा। वहीं दिल्ली रेसकोर्स क्लब की कई शानदार रेस जीतने वाले डार्क टाइगर की रेटिंग 104 है। यह काले रंग का घोड़ा लखनऊ की तीन रेस अपने नाम कर चुका है। डार्क टाइगर छिपा रुस्तम साबित हो सकता है। दूसरी ओर पॉलिसी मेकर है। हैदराबाद से चार साल पहले आए भूरे रंग के इस घोड़े की रेटिंग 120 है।  हैदराबाद में 1400 मीटर की रेस में पॉलिसी मेकर के नाम रिकॉर्ड दर्ज है। लखनऊ रेसकोर्स में तीन रेस का विजेता रह चुका है। 

सपना न तोड़े ड्रीम डील

इस घोड़े की रेटिंग 80 है, लेकिन यह तीन बार बड़ा उलटफेर कर चुका है। ड्रीम डील प्रतिष्ठित कप को अपने नाम करने के लिए जाना जाता है। यह 10 साल का घोड़ा तीन बार प्रतिष्ठित आर्मी कमांडर कप जीत चुका है। 

प्रतिबंध के बाद वापसी

हैदराबाद की रेस में शानदार रिकॉर्ड वाले क्लाउड डांसर की रेटिंग रेस से पहले ही 70 से बढ़कर 95 हो गई है। अपने जॉकी को फेंकने और गलत दिशा में दौडऩे के कारण दो साल के प्रतिबंध के बाद पहली बार क्लाउड डांसर ट्रैक पर उतरेगा। इसे लंबी दूरी की रेस में शानदार प्रदर्शन के लिए जाना जाता है। वहीं 120 रेटिंग वाला विजय विधाता लखनऊ रेसकोर्स में अब तक प्रभावशाली प्रदर्शन नहीं कर सका है। इसके नाम केवल दो ही रेस हैं। 

 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस