लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश की जेलें अपराधियों के लिए ऐशगाह बनती जा रही हैं। बैरकों में कुख्यात बंदियों के मुर्गा व शराब पार्टी से लेकर जुएं की फड़ तक जम रही हैं। इससे जेलों की सुरक्षा-व्यवस्था से लेकर जेल के भीतर कुख्यात अपराधियों को मिल रही सुविधाओं पर एक बार फिर बड़े सवाल खड़े हुए हैं।

नवंबर 2018 में रायबरेली जेल में अपराधी अंशू दीक्षित व साथियों के मुर्गा व शराब पार्टी का वीडियो वायरल होने के बाद अब नैनी सेंट्रल जेल व गाजीपुर जेल की वायरल हुई कुछ ऐसी ही तस्वीरें फिर सामने आई हैं। चर्चा तो यह भी है कि नैनी जेल की तस्वीरें माफिया अतीक अहमद को यहां से अहमदाबाद जेल भेजे जाने की खुशी में की गई पार्टी की हैं। हालांकि एडीजी जेल चंद्र प्रकाश का कहना है कि नैनी जेल की तस्वीरें होली के दिन की हैं। नैनी व गाजीपुर जेल के मामलों की विस्तृत जांच के आदेश दिये गए हैं। 

बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद के अहमदाबाद जेल शिफ्ट होने के बाद नैनी सेंट्रल जेल फिर सुर्खियों में है। नैनी जेल में बंद अपराधियों के मुर्गा व शराब पार्टी करते तस्वीरें वायरल हुई हैं। एडीजी जेल का कहना है कि यह तस्वीरें होली के समय की हैं। डीआइजी जेल, प्रयागराज से प्रकरण की जांच कराई गई है। नैन जेल के अधीक्षक, जेलर व डिप्टी जेलर को नोटिस देकर उनका जवाब तलब किया जा रहा है। जांच के बाद दोषी अधिकारियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई होगी।

बताया गया कि डीआइजी जेल ने अपनी जांच में जेल अधीक्षक समेत तीनों अधिकारियों की भूमिका संदिग्ध पाई है और विभागीय कार्रवाई की संस्तुति की है। इसके अलावा वायरल तस्वीर में नजर आ रहे चार बंदियों को दूसरे जेल में स्थानान्तरित किये जाने की संस्तुति की गई है। इस मामले की सच्चाई सामने आने के बाद मुख्य बंदी रक्षक मूलचंद दोहरे और बंदी रक्षक कृष्ण कुमार को निलंबित भी कर दिया गया है। 

दूसरी ओर सोशल मीडिया पर गाजीपुर जेल में बंद अपराधियों का पार्टी करते वीडियो वायरल हुआ है। एडीजी का कहना है कि यह वीडियो फरवरी माह का है। डीआइजी जेल, वाराणसी को इस मामले की जांच सौंपी गई है। गाजीपुर जेल के अधीक्षक से भी जवाब-तलब किया जा रहा है।

रायबरेली जेल का वीडियो वायरल होने के बाद तत्कालीन वरिष्ठ अधीक्षक समेत छह जेलकर्मियों को निलंबित किया गया था। माफिया अतीक अहमद के गुर्गों के द्वारा लखनऊ निवासी रियल इस्टेट कारोबारी को अगवा कर देवरिया जेल में पीटे जाने के मामले मेंं भी जेल अधीक्षक समेत अन्य जेल कर्मियों को निलंबित करने के साथ ही उनके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया गया है। माना जा रहा है कि नैनी व गाजीपुर जेल के अधिकारियों के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जा सकती है।

यह भी पढ़ें...माफिया अतीक अहमद के नैनी जेल से अहमदाबाद शिफ्ट होते ही सेंट्रल जेल में शराब की पार्टी से जश्न

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस