लखनऊ (जेएनएन)। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने के लिए लोक निर्माण विभाग उनकी जन्मभूमि आगरा और कर्मभूमि लखनऊ के सभी निर्माण कार्यों को उनके नाम करेगा। साथ ही हर क्षेत्र में बन रही सड़कें वहां के महापुरुषों के नाम की जाएंगी। यह निर्देश उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने मंगलवार को लोक निर्माण विभाग की समीक्षा बैठक में दिए। 

सड़कों की मरम्मत जल्द

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि बारिश के कारण खराब हुई सड़कों की मरम्मत भी जल्द की जाए। अधिकारियों को निर्देश दिया कि संबंधित क्षेत्र के जनप्रतिनिधि को पत्र भेजकर कार्य पूर्ण होने अथवा प्रारम्भ होने की सूचना दें ताकि जनता के बीच संदेश जा सके। मौर्य ने कहा कि जनप्रतिनिधियों की मांग पर विभिन्न क्षेत्रों में छोटे/बड़े पुलों का निर्माण प्राथमिकता से किया जाए। हर विधानसभा क्षेत्र में जहां रेल उपरिगामी सेतु बनाया जाना है, उसका प्रस्ताव शीर्ष प्राथमिकता से भेजा जाए।

54 इन्टरस्टेट मार्गों का नामकरण

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर के महापुरुषों के नाम पर सभी 54 इन्टरस्टेट कनेक्टीविटी मार्गों का नामकरण किया जाएगा। वहां पर प्रवेश द्वार बनाए जाएंगे और इन मार्गों पर हरियाली विकसित करने के साथ क्षेत्र विशेष के ऐतिहासिक स्थल अथवा महापुरुष का उल्लेख किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इंडो नेपाल बार्डर सुरक्षा की दृष्टि से अति महत्वपूर्ण है। उस क्षेत्र के महत्व को दृष्टिगत रखते हुए कार्ययोजना बनाई जाए। साथ ही सभी 75 जिलों में से लोक निर्माण विभाग सड़कों के मामले में सबसे अच्छे व खराब जिलों को चिह्नित करे। समीक्षा बैठक में अपर मुख्य सचिव लोक निर्माण विभाग संजय अग्रवाल, विशेष सचिव योगेश्वर राम मिश्र, विभागाध्यक्ष वीके सिंह सहित सभी मुख्य अभियंता मौजूद थे। 

Posted By: Nawal Mishra