लखनऊ, जेएनएन। मेघ मेहरबान है। फिलहाल अभी प्रदेश में अपनी नेमत बरसाते रहेंगे। कहीं हल्की तो कहीं तेज बारिश का सिलसिला इसी तरह जारी रहने की उम्मीद है।इसकी प्रमुख वजह यह है कि प्रदेश से मानसून की ट्रफ लाइन गुजर रही है। वहीं पूर्वी उत्तर प्रदेश में एक सरकुलेशन बना हुआ है। इसी के चलते जहां मध्यप्रदेश में झमाझम बारिश हो रही है। वहीं उत्तर प्रदेश में भी मानसून सक्रिय है।

आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक जेपी गुप्ता बताते हैं कि मंगलवार को बहराइच में 57, बरेली में 50, बलिया में 15, लखीमपुर खीरी में 43, बांदा में 11.4 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई। प्रदेश में जून से अब तक करीब 190.5 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड हो चुकी है। उन्होंने बताया कि अगले चार-पांच दिन बारिश के आसार हैं। पूर्वी उत्तर प्रदेश में कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। वहीं पश्चिमी उत्तर प्रदेश में गरज चमक के साथ बारिश होने का अनुमान है।

राजधानी में बुधवार को बादलों की आवाजाही बनी रहेगी। बीच-बीच में बौछारें भी पड़ेगी। प्रदेश में हो रही बारिश का असर तापमान पर भी दिख रहा है। मंगलवार को अधिकतम तापमान सामान्य से 4.5 डिग्री कम 30.3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। वहीं न्यूनतम तापमान सामान्य से 2.2 डिग्री कम 24.6 डिग्री दर्ज हुआ। वायुमंडल में नमी 100 फीसद बनी हुई है। उन्होंने कहा कि अगले चार-पांच दिन फिलहाल बारिश का दौर जारी रहेगा। 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस