लखनऊ,(अंशू दीक्षित)। नए लखनऊ को नया लुक देने की तैयारी तेेज हो गई है। न्यूयार्क के प्रसिद्ध टाइम स्क्वायर की तर्ज पर कुछ क्षेत्र विकसित करने की योजना मूूूूूूूर्तरूप ले रही है। उद्देश्य है कि एक नया कमर्शियल हब बने। स्थानीय नागरिक ही नहीं, अन्य देश व प्रदेश से आने वाले भी इस बाजार का आनंद ले सकें।

योजना को मू्र्तरूप देने के लिए एलडीए खाका तैयार करवा रहा है। करीब एक हजार करोड़ की जमीन पर क्या-क्या तैयार हो सकता है, इसे लेकर डीएम व एलडीए उपाध्यक्ष अभिषेक प्रकाश खुद निगरानी कर रहे हैं। चूंकि,

शहीद पथ के किनारे नया शहर आकार ले रहा है। एलडीए की टाउनशिप होने के साथ ही अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम, दो-दो नए मॉल के साथ ही आइटी सिटी व भविष्य में मेट्रो भी प्रस्तावित है। इसीलिए तेजी से विकसित होते नए शहर में चार चांद लगाने के लिए पहले से अर्जित 90 एकड़ जमीन जो एलडीए अपने कब्जे में ले रहा है।

एलडीए की मंशा है कि इस जमीन का उपयोग बेहतर तरीके से हो। यह जमीन गोमती नगर विस्तार से पुलिस मुख्यालय के बीच में है। डीएम अभिषेक प्रकाश ने बताया कि कमर्शियल हब के लिए इससे बेहतर कोई स्थान लखनऊ में नहीं हो सकता। यहां हाईटेक मार्केट के साथ ही बेहतरीन चिकित्सकीय सुविधा और तकनीकी शिक्षा के लिए कुछ जमीन के पॉकेट छोड़े जाएंगे। 50 एकड़ जमीन चिन्हित कर ली गई है, जिस पर फेंंसिंग का काम चल रहा है। बची हुई जमीन चंद दिनों में एलडीए अपने कब्जे में ले लेगा।

90 एकड़ जमीन से एलडीए होगा मालामल

शहर की खूबसूरती बढ़ाने के साथ ही एलडीए इस जमीन से अपना खजाना भी भरेगा। वर्तमान में विभाग के पास चंद महीनों का वेतन देने का बजट है। डीएम व एलडीए उपाध्यक्ष अभिषेक प्रकाश इसे किल्लत को दूर करना चाहते हैं। मलेशेमऊ की जमीन चिन्हित होते ही काम शुरू करने की योजना है। यह जमीन करीब 90 एकड़ है।

जमीन एलडीए की है। इस पर एक कमर्शियल हब बनाने की तैयारी है। प्रयास है कि शहर के लिए यह स्थान आईकॉन साबित हो। कुछ जमीन स्कूल व बेहतर सुविधाओं वाले अस्पतालों के लिए भी दी जाएगी। -अभिषेक प्रकाश डीएम व एलडीए उपाध्यक्ष।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021