लखनऊ, राज्य ब्यूरो। इंटरनेट मीडिया पर जब प्रचार की जंग छिड़ी है, तब पुलिस भी अपने रंग ढंग बदलकर इस प्लेटफार्म का खूब इस्तेमाल कर रही है। लोगों को मतदान के प्रति जागरूक करने के साथ ही उसका मकसद गड़बड़ी करने वालों को खबरदार करना भी है। इसके लिए पुलिस की क्रिएटिव टीम रोचक प्रयास कर रही है। खाकी मनोरंजक ढंग से लोगों तक अपना संदेश पहुंचाने के अनोखे प्रयास कर रही है। उसके रचनात्मक ट्वीट को काफी सराहना भी मिल रही है। 

डीजीपी मुकुल गोयल के निर्देश पर पुलिस ने भी इंटरनेट मीडिया की निगरानी के साथ ही उसके विभिन्न प्लेटफार्म को जागरूकता के लिए इस्तेमाल करने में तेजी दिखानी शुरू की है। डीजीपी मुख्यालय स्थित सोशल मीडिया सेल में चुनाव के ²ष्टिगत क्रिएटिव टीम का भी गठन किया गया है। नोएडा में चेकिंग के दौरान 99 लाख रुपये पकड़े जाने के बाद पुलिस ने अपने ट्वीट में लिखा कि निन्यानबे का फेर, चुनावी धांधली से न बन पाओगे शेर, इनकम टैक्स का छापा और पुलिस लेगी घेर। साथ ही मतदाताओं को रिश्वत देने के अपराध के प्रति सचेत किया। पुलिस के इस ट््वीट को 42 हजार से अधिक लोगों ने देखा।

बस्ती में चुनाव में शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए की जा रही कार्रवाई के तहत पकड़े गए असामाजिक तत्वों, वांछित अपराधियों की एक ड्रोन कैमरे से ली गई फोटो साझा की गई। इसमें अपराधियों को जमीन पर इस तरह से बैठाया गया था कि तस्वीर में बस्ती पुलिस लिखा नजर आ रहा था। ऐसे ही गोंडा व देवरिया में पकड़े गए अपराधियों की भी तस्वीर ट््वीट की गई। इन तस्वीरों के जरिये पुलिस ने गड़बड़ी करने वालों को कड़ा संदेश दिया। यूपी पुलिस लोगों को मतदान के प्रति जागरूक करने के लिए नारों का अभियान भी चला रही है। लोग रचानात्मक नारे साझा कर एक-दूसरे को निष्पक्ष व शांतिपूर्ण चुनाव के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

Edited By: Vikas Mishra