लखनऊ, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बाबा गोरखनाथ की धरती गोरखपुर को मंगलवार को विकास का नया आयाम देंगे। पीएम मोदी के गोरखपुर आगमन से पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपनी कर्मभूमि को लेकर बड़ा माहौल बना दिया है। उन्होंने मंगलवार को चार ट्वीट से पीएम मोदी का स्वागत किया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लिखा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज, गोरखपुर के रीजनल मेडिकल रिसर्च सेंटर (आरएमआरएस) का लोकार्पण भी कर रहे हैं। यहां विषाणुजनित बीमारियों पर शोध के साथ ही ट्रेनिंग की भी सुविधा होगी। इससे उत्तर प्रदेश और बिहार राज्य की बड़ी आबादी लाभान्वित होगी।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने लिखा है कि जिस आल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (एम्स) गोरखपुर की आधारशिला 2016 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रखी थी, आज 112 एकड़ में विस्तृत रूप ले चुका है। 1,011 करोड़ करोड़ लागत से निर्मित उसी एम्स का लोकार्पण प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ही कर-कमलों से हो रहा है। यह एम्स उत्तर प्रदेश के साथ बिहार और पड़ोसी राष्ट्र नेपाल को भी उच्च स्तरीय चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराएगा।

____________

मुख्यमंत्री ने आगे के ट्वीट में लिखा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 31 वर्ष से बंद पड़े खाद कारखाने में जान डाल दी है। गोरखपुर में 600 एकड़ में विस्तृत क्षेत्र में फैले इस कारखाने को दोबारा शुरू करने में 8,603 करोड़ लागत आई है। प्रधानमंत्री इस खाद कारखाने को आज राष्ट्र को समर्पित करेंगे। विगत 31 वर्षों से बंद पड़े इस कारखाने के प्रारंभ होने से सालाना 12.7 मिट्रिक टन उर्वरक का उत्पादन होगा। इसके साथ ही क्षत्र में बड़े पैमाने पर प्रत्यक्ष तथा अप्रत्यक्ष रोजगार सृजित होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि गोरखपुर विकास के नए क्षितिज पर है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी यहां पर मंगलवार को शिव अवतारी महायोगी बाबा गोरखनाथ जी की तपोभूमि गोरखपुर में लगभग 10,000 करोड़ से अधिक की विभिन्न लोक-कल्याणकारी विकास परियोजनाओं को लोकार्पित कर राष्ट्र को समर्पित करेंगे। 

Edited By: Dharmendra Pandey