बहराइच, जेएनएन। डेढ़ वर्षीय बालिका का अपहरण कर दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया। गंभीर हालत में बालिका को मेडिकल कालेज बहराइच रेफर किया गया, जहां इलाज के दौरान मासूम की मौत हो गई। ग्रामीणों ने आरोपित की पिटाई कर पुलिस के सुपुर्द कर दिया। कोतवाली पहुंचा आरोपित पुलिस के चंगुल से भागने का प्रयास करने लगा। इस दौरान पुलिस की गोली लगने से आरोपित घायल हो गया। घटना से आक्रोशित पीड़ित परिवार एवं ग्रामीण आरोपित को फांसी पर लटकाने की मांग कर रहे हैं। एसपी ने घटनास्थल का जायजा लिया। गांव में छह थानों के पुलिस बल को तैनात किया गया है।

कोतवाली नानपारा क्षेत्र निवासी मासूम का 30 वर्षीय परशुराम ने उस समय अपहरण कर लिया, जब वह घर में सो रही थी। युवक ने गांव के बाहर बने प्राथमिक विद्यालय में ले जाकर उससे दुष्कर्म किया। अचानक बच्ची के लापता होने पर परिवारजन व ग्रामीणों ने खोजबीन शुरू की। गांव के बाहर बने विद्यालय से उसके रोने की आवाज सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंचे तो बच्ची को रक्त रंजित अवस्था में देखकर सभी शर्मसार हो गए। मौके से भाग रहे आरोपित को ग्रामीणों ने घेराबंदी कर पकड़ लिया और जमकर पीटा। घटना की जानकारी पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने मासूम को तत्काल उपचार के लिए सीएचसी नानपारा पहुंचाया। चिकित्सकों ने बच्ची की हालत चिंताजनक देख बहराइच मेडिकल कालेज रेफर कर दिया। मंगलवार को इलाज के दौरान मासूम की मौत हो गई। घटना से परिवारजन में कोहराम मचा गया।

जानकारी मिलते ही पुलिस अधीक्षक सुजाता सिंह ने एएसपी ग्रामीण अशोक कुमार के साथ घटनास्थल का जायजा लिया। ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए एसपी ने छह थानों की पुलिस फोर्स को तैनात किया है। पकड़ा गया आरोपित काेतवाली से भागने का प्रयास कर रहा था। इस दौरान वह पुलिस की गोली से घायल हो गया, उसे भी इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। एसपी ने बताया कि आरोपित के खिलाफ एनएसए, दुष्कर्म, पाक्सो व अन्य गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया गया है। उन्होंने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

Edited By: Anurag Gupta