लखनऊ, जागरण संवाददाता। रजधानी लखनऊ में पिछले कुछ दिनों से हो रही उमस भरी गर्मी से रविवार को छुटकारा मिल गया। रविवार दोपहर एक बजे करीब बारिश होने लगी। जिससे लोगों को काफी राहत मिली। लगभग एक घंटे तक हल्‍की बारिश हुई। जिसके बाद मौसम भी सुहावना हो गया।

रविवार दोपहर हुई बारिश के बाद लोग मौसम का मजा उठाने बाहर निकले। ठंडी हवाओं ने लोगों को उमस भर गर्मी से राहत दी। वीकेंड लॉकडाउन की वजह से दुकानें और व्‍यापारिक प्रतिष्‍ठान बंद थे। इसके बाद भी लोग घूमने के लिए घरों से बाहर निकले। सबसे ज्‍यादा भीड़ गोमती नगर में रही। यहां लोग रिवर फ्रंट और मरीन ड्राइव पर घूमते नजर आए।

लखनऊ और आसपास के जनपद को बारिश के लिए करना होगा इंतजार: मौसम विभाग के निदेशक डा. जेपी गुप्ता ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में दबाव कम बन पाने से मानसून मजबूत नहीं हो पा रहा है। उन्होंने बताया कि रविवार से लेकर अगले तीन चार दिनों तक पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जनपदों में भारी बारिश के आसार हैं। मगर लखनऊ व आसपास के जनपदों में सिर्फ आंशिक बारिश व गरज-चमक ही देखने को मिलेगी। बादलों की आवाजाही रहेगी। पूर्वी यूपी के भी कुछ जिलों व तराई क्षेत्रों में ठीक ठाक बारिश हो सकती है।

उमस भरी गर्मी और बिजली कटौती ने छुड़ाए पसीने: राजधानी में हल्‍के बादलों ने कुछ राहत दी है, मगर वह बरस नहीं रहे हैं। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले तीन चार दिनों तक यही स्थिति बनी रह सकती है। हवा न चलने की वजह से उमस भरा मौसम है। वहीं लाइट की आवाजाही से लोगों का हाल बुरा है। पुराने लखनऊ समेत कई इलाकों में वोल्‍टेज फलक्‍चुएशन की समस्‍या बनी हुई है। वहीं कई क्षेत्रों में अधिक लोड की वजह से बिजली कट रही है। जिससे उमस भरे मौसम में लाइट का जाना लोगों को और ज्‍यादा बेहाल कर रहा है।

 

Edited By: Rafiya Naz