लखनऊ। भारत और पड़ोसी पाकिस्तान के बीच लगातार बातचीत से ही शांति हासिल होगी। पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने भारत व पाकिस्तान के संबंधों पर आज लखनऊ माना कि दोनों ने बीच चीजें एक रात में नहीं बदल सकती हैं। दाउद इब्राहीम की बात चली तो अब्दुल बासित ने पाकिस्तान में दाउद की मौजूदगी को सिरे से नकार दिया है। पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने कहा कि ये साहब [दाऊद इब्रहिम] पाकिस्तान में नहीं हैं, मै इतना ही कह सकता हूं। उन्होंने कहा कि मंबई हमले के आरोपियों पर मुकदमा चल रहा है। हमे फैसले का इंतजार करना चाहिए। गौरतलब है कि पाकिस्तान, भारत द्वारा बार बार सबूत पेश किए जाने के बाद भी इस बात से इन्कार करता रहा है कि दाऊद उनके देश में हैं।

लखनऊ में फिक्की के एक कार्यक्रम में उद्योग जगत से मुखातिब अब्दुल बासित ने माना कि कहीं पर भी शांति सिर्फ बातचीत से ही हासिल की जा सकती है। भारत और हमारे देश के बीच में भी यह सब जुदा नहीं है। दोनों जगह पर चीजें एक रात में नहीं बदल सकती है, ऐसे में दोनों मुल्कों के दरम्यान लगातार वार्ता होना जरूरी है। दोनों मुल्कों के लोंगों को आसानी से वीज़ा मिलना चाहिए। सीमित कारोबार से बात बनने वाली नहीं है, इससे एक कदम आगे जाना होगा। साथ ही इसे बगैर रूकावट के जारी भी रखना होगा। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि कश्मीर चुनाव जनमत संग्रह का विकल्प नहीं हो सकते। आज शाम को उच्चायुक्त मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से भी मुलाक़ात की।

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस