लखनऊ, जितेंद्र उपाध्याय। राजकीय औद्योगिक संस्थाओं में प्रवेश को लेकर चल रही तैयारियों के बीच इस बार पाठ्यक्रम को मांग के अनुरूप बदला जाएगा। रेडियो टीवी जैसे अनुपयोगी ट्रेडों में बदलाव के साथ ही थ्योरी के बजाय प्रेक्टिकल पर ज्यादा जोर होगा। संयुक्त प्रवेश प्रक्रिया और ब्लाकवार 25 फीसद आरक्षण देने का भी निर्णय हो चुका है। हाईस्कूल परिणाम आने के साथ ही चार अगस्त से प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो गई।

ब्लाक क स्तर पर बनेगी प्रवेश सूची : व्यावसायिक प्रशिक्षण परिषद की ओर से हर वर्ष आयोजित होने वाली प्रवेश परीक्षा के आधार पर करीब 305 राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थाओं और निजी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थाओं में प्रवेश होता है। हर वर्ष करीब पांच लाख से अधिक छात्र प्रवेश के लिए आवेदन करते हैं। हाईस्कूल में प्राप्त अंकों के आधार पर ब्लाक स्तर पर प्रवेश सूची बनेगी। नई व्यवस्था से ग्रामीण युवाओं को प्रवेश का अधिक अवसर मिलेगा , लेकिन ऐसे छात्र जिनके हाईस्कूल में कम अंक हैं उनके प्रवेश की संभावनाएं कम होंगी। मेरिट जिले, ब्लॉक और तहसील स्तर पर बनाई जाएगी। हर स्तर पर कुल सीटों का 25 फीसद ब्लॉक में रहने वाले विद्यार्थियों के लिए आरक्षित होगी।

हाईस्कूल की मेरिट के आधार पर प्रवेश होगा। आनलाइन आवेदन भरे जाएंगे। ब्लाक और तहसील स्तर पर मेरिट सूची बनेगी तो उस ब्लाक के विद्यार्थियों को प्रवेश का अधिक अवसर मिलेगा। तकनीक को बाजार के अनुरूप तैयार करने के लिए बिना मांग वाली ट्रेडों के स्थान पर दूसरी ट्रेडों की पढ़ाई कराने की तैयारी है। हाईस्कूल के परिणाम आ चुका है। बुधवार से आनलाइन आवेदन शुरू हो गए। 28 अगस्त तक आवेदन किए जा सकेंगे।     -एससी तिवारी, अपर निदेशक, प्रशिक्षण

आइटीआइ पर एक नजर

  • प्रदेश में सरकारी आइटीआइ-305
  • निजी आइटीआइ-2939
  • सरकारी में प्रवेश क्षमता-1,20575 -निजी में प्रवेश क्षमता-3,71732 -प्रशिक्षण की ट्रेड-67
  • आवेदन राज्य व्यावसायिक प्रशिक्षण परिषद की वेबसाइट (एससीवीटीयूपी.इन) पर होगा।
  • प्रवेश की उम्र 14 साल से ऊपर
  • योग्यता : हाईस्कूल
  • आवेदन शुल्क : सामान्य व पिछड़े वर्ग: 250
  • अनुसूचित जाति व जनजाति : 150

Edited By: Anurag Gupta