जागरण संवाददाता, लखनऊ : कृष्णानगर एवं सरोजनीनगर पुलिस की संयुक्त टीम ने मंगलवार तड़के 25 हजार के इनामी बदमाश को मुठभेड़ के दौरान दबोच लिया। बदमाश के पैर में गोली लगी है। एसएसपी दीपक कुमार के मुताबिक आरोपित ने पीजीआइ क्षेत्र में बीते वर्ष एक युवक की हत्या कर शव को अधजला जलाकर गटर में फेंक दिया था। मुठभेड़ के दौरान आरोपित का एक अन्य साथी पुलिस को चकमा देकर भाग निकला।

एएसपी पूर्वी सर्वेश कुमार मिश्र के मुताबिक वांछित बदमाश सलारगंज, चिनहट निवासी संदीप कोरी और उसके साथी जुग्गौर निवासी रवि के नादरगंज की ओर से कृष्णानगर की तरफ जाने की सूचना मिली थी। इसपर सरोजनीनगर और कृष्णानगर पुलिस ने मंगलवार तड़के करीब पांच बजे घेराबंदी की। अलीनगर सुनहरा में पुलिस ने दोनों को रोकने की कोशिश की तो उन्होंने फाय¨रग कर दी। इसके बाद सुनहरा नहर के पास बाग में छिप गए। जवाब में इंस्पेक्टर कृष्णानगर और इंस्पेक्टर सरोजनीनगर ने फाय¨रग की, जिसमें गोली लगने से संदीप कोरी घायल हो गया। वहीं रवि पासी अंधेरे का फायदा उठाकर भाग निकला।

दो युवकों को चाकू मारकर की थी लूटपाट

इंस्पेक्टर कृष्णानगर अंजनी कुमार पांडेय के मुताबिक पकड़े गए बदमाश ने पांच अगस्त 2016 को सरोजनीनगर में सोहरामऊ उन्नाव निवासी योगेंद्र व संदीप के साथ लूटपाट की थी। संदीप कार में अपने छह साथियों के साथ मौजूद था। आरोपितों ने दोनों को लिफ्ट देने के बहाने गाड़ी में बिठाया था और रास्ते में चाकू मारकर रुपये, मोबाइल फोन समेत अन्य सामान लूट लिए थे। हमले में योगेंद्र और संदीप घायल हो गए थे।

युवक की नृशंस हत्या के बाद से था फरार

आरोपित संदीप कोरी ने साथियों संग मिलकर चिनहट से लापता टाइल्स कारोबारी राजेश रावत की सात अगस्त को नृशंस हत्या कर दी थी। वारदात के बाद से वह फरार था, जबकि पांच अन्य आरोपितों को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी थी। राजेश का शव आठ अगस्त को पीजीआइ के अवध विहार कॉलोनी के पास मैनहोल में अधजला मिला था। पड़ताल में पता चला था कि राजेश के बेटे ने गुलशन ने ही पिता की हत्या के लिए एक लाख रुपये की सुपारी दी थी। आरोपितों में आगरा में तैनात एडीएम नरेंन्द्र सिंह का बेटा यथार्थ उर्फ आर्यन भी शामिल था। पुलिस ने आर्यन, गुलशन, सरवन, करन तथा अनवर अली को गिरफ्तार किया था। आरोपितों ने आठ अगस्त को काम देने के बहाने राजेश रावत को बुलाया था और फिर दोधनखेड़ा लेकर गए थे, जहां चाकू से गला रेतकर हत्या के बाद शव को मैनहोल में डाल दिया था और पेट्रोल डालकर शव को जलाने की कोशिश भी की थी। इस वारदात में रवि भी शामिल था, जिसकी तलाश में पुलिस दबिश दे रही है।

By Jagran